Tue. Jun 18th, 2024
    पीवी सिंधु, श्रीकांत

    पूर्व चैंपियन पीवी सिंधु और किदांबी श्रीकांत खिताब हासिल करने के लिए अभी भी मैदान में है, जबकि परुपल्ली कश्यप ने शुक्रवार को 350,000 डॉलर इनामी वाले इंडिया ओपन के पुरुष एकल सेमीफाइनल में अपनी जगह सील करते हुए कुछ फॉर्म हासिल की है।

    सिंधु जो 2017 की चैंपियन और 2016 की उपविजेता रह चुकी है उन्होने अपने क्वार्टरफाइनल मुकाबले में डेनमार्क की आठवी वरीयता प्राप्त मिया ब्लिचफेल्ट 21-19, 22-20 से मात देकर सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की की है। अब वह अपने सेमीफाइनल मैच में शनिवार को चीन की बिंगजियाओ से भिड़ेंगी।

    सिंधु ने कहा, “सिंधु ने कहा, “मुझे इसे पहले ही खत्म कर देना चाहिए था। मैंने बहुत सारी त्रुटियां कीं। वह बिंगजियाओ  एक मुश्किल खिलाड़ी हैं। मुझे और अधिक धैर्यवान बनना होगा।”

    श्रीकांत ने हमवतन साई प्रणीत को 62 मिनट तक चले क्वार्टरफाइल मुकाबले में 21-23, 21-11-21-19 से मात देकर सेमीफाइल में जगह बनाई। वही पी.कश्यप ने चार साल बाद शीर्ष स्तरीय प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में जगह बनाई है। उन्होने अपने क्वार्टरफाइनल मुकाबले में चीनी ताइपे के वांग त्ज़ु वी को 21-16, 21-11 से हराया है।

    श्रीकांत का सामना सेमीफाइनल में चीन के हुआंग युक्सियांग से होगा, जबकि कश्यप पूर्व विश्व चैंपियन और पूर्व विश्व नंबर 1 विक्टर एक्सेलसेन से भिड़ेंगे।

    एचएस प्रणय अपने क्वार्टफाइनल मुकाबले में विक्टर एक्सेलसेन के खिलाफ जीत दर्ज करने में असफल रहे और उन्हे 10-21, 16-21 से हार का सामना करना पड़ा।

    श्रीकांत ने पिछले नौ टूर्नामेंटों में आठ क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी और शुरुआती 8 मैच हारने के बाद भारतीय खिलाड़ी ने अंतिम 8 में जगह नहीं बनाई थी।

    साई प्रणीत से मैच में जीत हासिल करने के बाद श्रीकांत ने कहा, ” मैच में बदलाव तब आया जब दूसरे मैच में मैं 1-7 से पीछे थे और मैंने उसके बाद कड़ी प्रतिस्पर्धी की। उसके बाद चीजो में बदलाव आया। जब स्कोर 19-19 पर आ गया था तब लग रहा था मैच कही भी जा सकता है। लेकिन महत्वपूर्ण क्षणो में मैंने अच्छा खेल दिखाया। तो मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं।”

    पी कश्यप ने अपनी जीत के बाद कहा, ” मुझे अच्छा महसूस हो रहा है। मैं सेमीफाइनल के बारे में नही सोच रहा था। मेरा पास एक अच्छा ड्रॉ था और एक अच्छा स्कोर था इसलिए मैं खुश हूं। मेरे पास फिटनेस के मुद्दे है लेकिन यहा मुझे आसानी हुई।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *