Thu. Jun 13th, 2024
    अवेश खान

    मध्य प्रदेश के तेज गेंदबाज आवेश खान गेंद को दोनों तरह से स्थानांतरित करने की क्षमता रखते हैं और एक छोटी गेंद डाल सकते हैं। उन्होंने 2014 में प्रथम श्रेणी में पदार्पण किया और 2016 में आईसीसी अंडर -19 विश्व कप में भारत के लिए खेला। 2017 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए अपना आईपीएल डेब्यू करने के बाद, अवेश ने पिछले सीज़न में दिल्ली के लिए छह मैच खेले, और उन्होने टीम को अपनी गेंदबाजी से प्रभावित किया। उसके बाद 2019 सीज़न के लिए फ्रेंचाईजी ने उन्हे सुरक्षित रखा।

    आईपीएल 2018 के दौरान इस तेज गेंदबाज ने दिल्ली डेयरडेविल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ एक मैच में 148.8 प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंक कर पंजाब के ओपनर बल्लेबाज आरोन फिंच का खिल्लियां उड़ा दी थी। उसी सीजन में उन्होने आगे केकेआर के खिलाफ 149. 29 प्रति घंटे के रफ्तार से गेंद फेंकी थी। इस साल सैयद मश्ताक अली ट्रॉफी टूर्नामेंट में भी उन्होने 150 और 151 प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी है।

    2016 के अंडर-19 विश्वकप के दौरान, त्वरित बाउंसर और यॉर्कर के लिए अवेश की तस्वीर स्पष्ट थी। यॉर्कर गेंद अवेश का सबसे पसंदीदा हथियार है, जिसके लिए वह बहुत मेहनत करते है। अवेश ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, ” मेरा उद्देश्य सुसंगत आधार पर यॉर्कर डालना है। लेकिन उसके लिए विचार की स्पष्टता होना महत्वपूर्ण है।”

    तो अपने यॉर्कर-बॉलिंग कौशल को निखारने के लिए आपका अभ्यास मॉड्यूल क्या है? उन्होने कहा, ” मैं पॉपिंग क्रीज के किनारे पर एक शंकु रखकर विस्तृत यॉर्कर गेंदबाजी करने का अभ्यास करता हूं और इसे लगातार हिट करने की कोशिश करता हूं। और स्टंप पर यॉर्कर का अभ्यास करने के लिए, मैं दोनों बूटों के साथ-साथ एक शंकु भी रखता हूं।”

    स्पीड ही उनकी संपत्ति है और वह यह जानते है। वह ऑफ सीजन में अपनी गेंदबाजी में स्पीड बढ़ाने के लिए भी बहुत मेहनत करते है। उन्होन कहा, ” मैंने पिछले साल 150 प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी और इस साल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उससे भी तेज गेंदबाजी की। लेकिन में इसे थोड़ा और आगे बढ़ाना चाहता हूं। लगातार 140 प्रति घंटे के निशान से परे गेंदबाजी करने के लिए, शरीर के लचीलेपन और मूवमेंट पर काम करना महत्वपूर्ण है। लय भी बहुत महत्पूर्ण है। सबसे महत्वपूर्ण चीज यह भी है कि आप कैसे दोड़ते है।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *