Tue. Jun 18th, 2024
    ayushman khurana

    अभिनेता आयुष्मान खुराना ने अपनी आगामी फिल्म “आर्टिकल 15” की रिलीज़ से पहले अपनी एक अनोखी इच्छा पूरी करना चाहते है। फ़िल्म के विषय के अधिक करीब महसूस करते हुए, अभिनेता नई दिल्ली में संसद भवन का दौरा करना चाहते है और भारत के संविधान की पहली कॉपी देखना चाहते है, जिसे भारत की संसद की लाइब्रेरी में एक विशेष हीलियम से भरे केस में रखा गया है।

    आयुष्मान वहाँ रखी गयी हस्तलिपि देखना चाहते है जिसमें सभी राइट्स निहित हैं और संविधान की पहली कॉपी देखना उनके लिए वास्तव में रोमांचक अनुभव होगा। इतना ही नहीं, यह पुस्तक भारतीय गणराज्य के संविधान के 1,000 फोटोलिथोग्राफिक प्रतिकृतियों में से एक है, जो 26 जनवरी, 1950 को लागू हुई थी। इस विस्तृत संस्करण के ओरिजिनल को बनाने में लगभग पांच साल लगे और इसे कैलीग्राफी में लिखा गया है।

    ऐसा पहली बार हुआ है जब बॉलीवुड के किसी अभिनेता ने ऐसी अनोखी इच्छा व्यक्त की है। आयुष्मान फ़िल्म में अपने किरदार की तैयारी के लिए पहले से ही इस विषय के इर्दगिर्द कई साहित्य पढ़ चुके हैं और अब अभिनेता को वर्दी में देखने के लिए दर्शकों का उत्साह सातवें आसमान पर है।

    इन्वेस्टिगेटिव ड्रामा “आर्टिकल 15” में आयुष्मान खुराना पहली बार एक पुलिस अधिकारी की भूमिका में नज़र आएंगे, जो सच्ची घटनाओं से प्रेरित है। जिन लोगों ने यह फिल्म देखी है, वे पहले से ही इसे वर्ष की सबसे महत्वपूर्ण फिल्म बता रहे हैं। अनुभव सिन्हा द्वारा निर्देशित “आर्टिकल 15” 28 जून 2019 को रिलीज़ होने के लिए तैयार है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *