Fri. Jul 19th, 2024
    आयुष्मान खुराना: मैंने कभी अपने करियर में सुरक्षित स्क्रिप्ट्स नहीं चुनी, मुझे नहीं पता सुरक्षित सिनेमा क्या है

    आयुष्मान खुराना बॉलीवुड के इकलौते ऐसे अभिनेता हैं जिन्होंने हर फिल्म से अलग मुद्दा उठाने की कोशिश की है और हर बार जोखिम लेने के बाद भी, बॉक्स ऑफिस पर सफल साबित हुए हैं। IANS से बात करते हुए, उन्होंने कहा कि कैसे लोग उनकी पहचान अच्छे कंटेंट से करते हैं और इसका इंतज़ार करते हैं कि अब वह बड़े परदे पर क्या लेकर आने वाले हैं।

    उनके मुताबिक, “मैं फ़िलहाल अपने करियर का आनंद ले रहा हूँ और बिलकुल भी दवाब महसूस नहीं कर रहा क्योंकि मैं वो फिल्में कर रहा हूँ जो मैं करना चाहता हूँ और शानदार कहानियां बता रहा हूँ जो बतानी जरूरी है। मैं दर्शको को अव्यवस्था तोड़ने वाला सिनेमा देने की उम्मीद करता हूँ जिसे प्यार भी मिले और बॉक्स ऑफिस पर प्रदर्शन भी दे।”

    Image result for Ayushmann Khurrana

    “मैंने कभी अपने करियर में सुरक्षित स्क्रिप्ट्स नहीं चुनी है और मुझे वास्तव में नहीं पता कि सुरक्षित फिल्में क्या होती हैं। मैंने हमेशा कुछ अलग करने का जोखिम उठाया है क्योंकि मुझे लगता है कि ये एक अच्छी कहानी है और कहानी जिसे देखने के लिए लोग सिनेमाघरों में आयेंगे, सबसे ज्यादा मायने रखता है। लोग केवल अच्छा कंटेंट देखने में दिलचस्पी रखते हैं।”

    अभिनेता बॉक्स ऑफिस पर ‘दम लगा के हईशा’, ‘शुभ मंगल सावधान’, ‘बधाई हो’, ‘अंधाधुन’ और ‘आर्टिकल 15’ जैसी शानदार फिल्में दे चुके हैं और बहुत जल्द ‘ड्रीम गर्ल’, ‘बाला’, ‘गुलाबो सिताबो’ और ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ में नज़र आने वाले हैं।

    Image result for Ayushmann Khurrana

    अभिनेता डिजिटल के युग में लोगो को वापस सिनेमाघरों में आकर्षित करना चाहते हैं। उन्होंने कहा-“ऐसे युग में जहाँ लोग सिनेमाघरों में कम आ रहे हैं और कंटेंट के लिए डिजिटल की तरफ ज्यादा रुख कर रहे हैं, ये मेरे जैसे अभिनेताओं के लिए बहुत जरूरी है कि वे अच्छे सिनेमा के लिए खड़े हो जो लोगो को फिल्मो की तरफ आकर्षित करें।”

    अभिनेता ने कहा कि वह हमेशा स्क्रिप्ट्स ये सोचकर चुनते हैं कि क्या वह इस कंटेंट को खुद सिनेमाघर में देखेंगे। उन्होंने साझा किया-“मैंने लोगो को बेस्ट कंटेंट देने के लिए बहुत कोशिश की है। मैं भाग्यशाली भी हूँ कि मुझे ऐसी फिल्में मिली।”

    Related image

    वह खुश हैं कि दर्शकों ने उन्हें अंतर सिनेमा के साथ पहचानना शुरू कर दिया है।

    वह कहते हैं-“इसलिए मेरी हर फिल्म फ्रेश, यूनिक और लोगो के अनुभव करने के लिए नयी रही है और मुझे ख़ुशी है कि लोगो ने मुझे अंतर सिनेमा के साथ पहचानना शुरू कर दिया है। लोग अब मुझसे अच्छा सिनेमा देने की उम्मीद करते हैं और मैं इस जिम्मेदारी का आनंद ले रहा हूँ क्योंकि मैं लगातार बेस्ट प्रोजेक्ट्स की तलाश में हूँ।”

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *