Thu. Jul 25th, 2024
    भारत के चौदहवें राष्ट्रपति

    रामनाथ कोविंद आज देश के चौदहवें राष्ट्रपति के पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जेएस खेहर उन्हें उनके पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे। शपथ ग्रहण समारोह संसद भवन के सेंट्रल हॉल में संपन्न होगा। शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए कोविंद निवर्तमान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ बग्गी में बैठकर राष्ट्रपति भवन से संसद भवन तक आएंगे।

    राष्ट्रपति भवन से संसद आने के दौरान कोविंद बग्गी में प्रणब मुखर्जी की दायीं तरफ बैठेंगे। शपथ ग्रहण समारोह संपन्न होने के बाद दोनों वापस राष्ट्रपति भवन जायेंगे। तब कोविंद बायीं तरफ और प्रणब मुखर्जी दायीं तरफ बैठेंगे। राष्ट्रपति भवन पहुँचकर श्री कोविंद अपना भाषण देंगे और फिर प्रणब मुखर्जी को उनके नए आवास, 10 राजाजी मार्ग छोड़ने जायेंगे जहाँ वित्तमंत्री अरुण जेटली उनका स्वागत करेंगे।

    शामिल होंगे सभी पार्टियों के प्रमुख नेता

    राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह में देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल होंगे। उनके अलावा सभी प्रमुख पार्टियों के दिग्गज नेताओं के भी शामिल होने की सम्भावना है। कई धुर विरोधियों के एकसाथ मंच साझा करने की सम्भावना हैं।

    मंगलवार सुबह 10:30 बजे नवनिर्वाचित राष्ट्रपति कोविंद अपने निवास से राजघाट जायेंगे और महात्मा गाँधी की समाधि पर श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे। इसके पश्चात् 11:15 पर वो राष्ट्रपति भवन के स्टडी रूम में आकर प्रणब मुखर्जी से मिलेंगे और दरबार हॉल में होने वाले कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। सुबह 11:45 बजे रामनाथ कोविंद और प्रणब मुखर्जी राष्ट्रपति भवन से बग्गी में सवार होकर राजपथ होते हुए संसद भवन पहुँचेंगे। दोपहर 12:00 बजे शपथ ग्रहण कार्यक्रम शुरू होगा। रामनाथ कोविंद देश के चौदहवें राष्ट्रपति के पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण के बाद नए राष्ट्रपति का सेंट्रल हॉल में भाषण होगा। दोपहर 1:00 बजे रामनाथ कोविंद और प्रणब मुखर्जी राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना होंगे जहाँ फ़ॉर कोर्ट के प्रांगण में भव्य गार्ड ऑफ़ ऑनर समारोह होगा। दोपहर 2:15 बजे वित्तमंत्री अरुण जेटली राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ प्रणब मुखर्जी को उनके नए आवास 10 राजाजी मार्ग पर छोड़ने जायेंगे और श्री कोविंद वहाँ से वापस राष्ट्रपति भवन लौट आएंगे।

    By हिमांशु पांडेय

    हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है।मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।