सोमवार, अक्टूबर 14, 2019

आईपीएल इतिहास के सबसे सफल खिलाड़ी बने रोहित शर्मा

Must Read

त्रिपुरा : महिला सांसद के खिलाफ आक्रामक टिप्पणी करने वाला गिरफ्तार

अगरतला, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। त्रिपुरा के एक व्यक्ति को राज्य की पुलिस ने लोकसभा सदस्य प्रतिमा भौमिक के खिलाफ...

7 साल बाद फिर क्यों सुर्खियों में आया निर्भया गैंगरेप का केस

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर(आईएएनएस)। साल 2012 के दिसंबर में हुई निर्भया गैंगरेप की घटना ने देश को हिला कर...

शरद रंगोत्सव में कवियों ने बांधा समां

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। देश भर से यहां आए एक दर्जन से अधिक कवियों-कवित्रियों की उपस्थिति में यहां...
अंकुर पटवाल
अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

आईपीएल के इस संस्करण में सबसे करीबी मैच कल टूर्नामेंट के फाइनल में देखने को मिला जहां चेन्नई सुपर किंग्स को मुंबई इंडियंस के खिलाफ अपने खिताब की रक्षा करने के लिए 1 गेंद में 2 रनो की जरुरत थी। लेकिन टीम ऐसा करने में सफल नही हो पाई और मुंबई की टीम ने इस रोमांचक फाइनल मैच में रन से जीत दर्ज की। जिसके बाद अब मुंबई इंडिंयस के कप्तान आईपीएल के इतिहास में सबसे सफल खिलाड़ी बन गए है।

उन्होने एक खिलाड़ी के रुप में पांच आईपीएल खिताब जीत लिए है और मुंबई का नेतृत्व करते हुए टीम के लिए चार खिताब जीते है। 2009 में वापस आते है, वह उस समय डेकन चार्जर्स की टीम का हिस्सा थे जिन्होने उस साल आईपीएल के खिताब पर कब्जा किया था।

आईपीएल के फाइनल में सबसे ज्यादा जीत:

5 रोहित शर्मा

4 अंबाती रायडू/ किरोन पोलार्ड/ लसिथ मलिंगा

3 सुरेश रैना/ एमएस धोनी/ हार्दिक पांड्या

मैच के बाद में बात करते हुए, कप्तान ने अपनी टीम के प्रदर्शन के लिए उनकी जमकर प्रशंसा की और अपनी पूरी टीम को जीत का श्रेय दिया।

रोहित ने मैच के बाद कहा, ” पूरे टूर्नामेंट में हम, एक अच्छी क्रिकेट खेलते आए है, यह एक ऐसा सीजन रहा जहां हमने टॉप के लिए क्वालीफाई किया। हमने टूर्नामेंट को दो भाग में विभाजित करने की रणनीति बनाई थी, हर चीज हमने एक टीम के रुप में की, हमें इसके लिए पुरस्कार मिल रहा है। हमारी 25 खिलाड़ियो का स्क्वाड है हर मंच पर किसी ना किसी ने अच्छा प्रदर्शन किया है और हमारे सहयोगी स्टाफ ने भी।”

उन्होंने यह भी कहा कि एक कप्तान के रूप में वह केवल अपने खिलाड़ियों का समर्थन कर सकते हैं और यह खिलाड़ियों पर निर्भर था कि वे किसी विशेष योजना पर काम करें।

रोहित शर्मा ने आगे कहा, ” जब भी मैं फिल्ड पर आता हूं, मैं हर गेम में कुछ ना कुछ सीख रहा हूं। मैं अपने खिलाड़ियो को भी श्रेय देना चाहता हूं जो शानदार प्रदर्शन करके अपने कप्तान को बेहतर बनाते है।”
- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

त्रिपुरा : महिला सांसद के खिलाफ आक्रामक टिप्पणी करने वाला गिरफ्तार

अगरतला, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। त्रिपुरा के एक व्यक्ति को राज्य की पुलिस ने लोकसभा सदस्य प्रतिमा भौमिक के खिलाफ...

7 साल बाद फिर क्यों सुर्खियों में आया निर्भया गैंगरेप का केस

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर(आईएएनएस)। साल 2012 के दिसंबर में हुई निर्भया गैंगरेप की घटना ने देश को हिला कर रख दिया था। अब सात...

शरद रंगोत्सव में कवियों ने बांधा समां

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। देश भर से यहां आए एक दर्जन से अधिक कवियों-कवित्रियों की उपस्थिति में यहां रविवार को नटरंग शरद रंगोत्सव...

विजय हजारे ट्रॉफी : महाराष्ट्र 3 विकेट से जीता

वडोदरा, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। अजीम काजी के शानदार 84 रनों की मदद से महाराष्ट्र ने यहां खेले गए विजय हजारे ट्रॉफी के मैच में...

चीन-नेपाल मैत्री की जड़ मजबूत

बीजिंग, 13 अक्टूबर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने शनिवार को काठमांडू में नेपाली राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी के साथ मुलाकात की। दोनों ने...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -