बजट पर डिबेट में वापस देश न आने के अरुण जेटली ने दिए संकेत

Finance_Minister

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली इलाज के लिए अमेरिका में है। रविवार को उन्होंने कहा कि अमेरिकी अस्पताल में उनका इलाज पूरा हो चुका है। उन्होंने संसद में अल्प बजट डिबेट तक वापस न आने के संकेत दिए हैं। नरेंद्र मोदी सरकार का आखिरी बजट अरुण जेटली अपनी तबियत के कारण पेश नही कर पाए हैं।  खराब सेहत के कारण उन्हें अमेरिका के लिए रवाना होना पड़ा था।

अरुण जेटली की अनुपस्थिति में वित्त मंत्रालय का कार्यभार रेल मंत्री पीयूष गोयल को दे दिया गया था। 1 फरवरी को पीयूष गोयल ने साल 2019-20 के लिए अल्प बजट पेश किया था।

एक इंटरव्यू में अरुण जेटली ने कहा कि उनकी सेहत में सुधार जारी है और संसद में अल्प बजट में डिबेट में शामिल होने के बाबत उनकी डॉक्टर की अनुमति के बाद हाज़िर हुआ जा सकता है। उन्होंने कहा यह पूरी तरह मेरे डॉक्टर की अनुमति पर निर्भर करता है।

उन्होंने कहा “यह यहां मेरे इलाज के बाद संभव होगा और वह पूरा हो चुका है। यह मेरे डॉक्टर पर है कि कब वह मुझे वापस जाने की अनुमति देते हैं। मेरी सेहत में सुधार हो रहा है। मेरी अनुपस्थिति में पीयूष गोयल बजट का जवाब दे रहे होंगे।”

अरुण जेटली बीते माह बीमारी के कारण अमेरिका चले गए थे। न अरुण जेटली ने और न सरकार ने उनकी बीमारी से संबंधित कोई टिप्पणी की है। हालांकि रिपोर्ट के मुताबिक वह सॉफ्ट टिश्यू कैंसर से जूझ रहे है और इसका इलाज जारी है।

अरुण जेटली का 14 मई 2018 को किडनी ट्रांसप्लांट एमस में हुआ था। इस दौरान भी वित्त मंत्रालय का कार्यभार पीयूष गोयल ने ही संभाला था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here