Sun. Jun 23rd, 2024
    अरविन्द केजरीवाल ने भाजपा की तुलना की हिटलर से

    आम आदमी पार्टी का ये दावा है कि आगामी लोक सभा चुनाव में वे दिल्ली की सभी सात लोक सभा सीटें जीतकर मोदी-शाह की ‘तानाशाही’ खत्म कर देगी। और इतना ही नहीं, पार्टी प्रमुख अरविन्द केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी पर ये इलज़ाम लगाते हुए कहा कि वे चुनाव को खत्म करने की योजना बना रही है अगर वे जीत जाते हैं।

    रविवार को उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से पार्टी के स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए, केजरीवाल ने कहा कि भाजपा का शासन हिटलर के सत्ता में आने के समय जैसा था, वैसा ही रहा है।

    केजरीवाल ने कहा-“ये भाजपा की योजना का हिस्सा है। जैसे हिटलर ने जर्मनी में किया था वैसे ही भाजपा भी संविधान में संसोधन करने की और आखिर में चुनाव को पूर्ण रूप से खत्म करने की योजना बना रही है। अगर मोदी फिर सत्ता में आ गए तो भाजपा संविधान बदल देगी और लोकतंत्र और चुनाव को खत्म कर देगी।”

    दिल्ली आप के संयोजक गोपाल राय और उत्तर पूर्व दिल्ली सीट के लिए पार्टी के प्रभारी दिलीप पांडे ने पार्टी कार्यकर्ताओं से भाजपा के ‘हिटलर जैसे शासन’ को हराने के लिए घर-घर जाने का आह्वान किया।

    पांडे ने कहा-“हमें मोदी-शाह की जोड़ी के तानाशाही रवैये से देश को बचाने के लिए अपने प्रयासों को दोगुना करने की जरूरत है। दिल्ली के सर्वेक्षणों से पता चलता है कि दिल्ली आम आदमी पार्टी के सभी सात सांसदों को चाहती है।”

    दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आप को लताड़ लगाते हुए कहा कि दिल्ली के लोगों को धोका देने के लिए लोक सभा चुनाव में उन्हें बहुत सख्त सजा मिलने वाली है। उनके मुताबिक, “2015 में बड़े पैमाने पर जनादेश के बावजूद, आप ने आयुष्मान भारत योजना को लागू नहीं करके लोगों को धोखा दिया, और उन्हें स्वास्थ्य, शिक्षा और पानी की आपूर्ति के मामलों में विफल कर दिया है।”

    केजरीवाल को उनके लगाए इल्ज़ामो के लिए सुनाते हुए तिवारी ने कहा-“संविधान का थोड़ा भी ज्ञान रखने वाला कोई भी भले ही वो मुख्यमंत्री हो या ना हो, इस तरह की बात नहीं कर सकता।”

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *