Sat. Feb 4th, 2023
    अमेज़न

    अमेज़न इंडिया इस बार त्योहारों के सीज़न में करीब 50 हज़ार अस्थायी नौकरियाँ दे रहा है। ये नौकरियाँ अमेज़न ने इस बार अपने आपूर्ति स्टेशन के जरूरत के हिसाब से निकाली हैं।

    10 अक्टूबर से शुरू होने जा रही अमेज़न की ‘द ग्रेट इंडियन फेस्टिवल’ सेल का मुक़ाबला उसी दिन से ही शुरू हो रही फ्लिपकार्ट की सेल ‘द बिग बिलियन डे’ से है।

    हाल ही में हुए वालमार्ट के निवेश के बाद फ्लिपकार्ट इस बार मुक़ाबले में अपेक्षाकृत मजबूत नज़र आ रही है। यही कारण है कि अमेज़न इस बार ग्राहकों की सुविधा में कोई कमी नहीं होने देना चाहता है।

    अमेज़न इंडिया के वॉइस प्रेसिडेंट अखिल सक्सेना ने कहा है कि “हमारी कोशिश है कि ग्राहकों को इस बार बाधा रहित शॉपिंग का लाभ मिले, जिसके तहत हमने 2 गुनी तादाद में अस्थायी कर्मचारियों को काम पर रखा है। पिछले पाँच सालों की तुलना में इस बार हमें अपनी सेल से बहुत अधिक उम्मीद है, जिसके चलते हम अपने ग्राहकों की सुविधा में किसी भी प्रकार की बाधा उत्पन्न नहीं होने देना चाहते हैं।”

    अमेज़न ने इस वर्ष अपने डिलीवरी नेटवर्क पर भी काफी अधिक निवेश किया है।

    अखिल सक्सेना के अनुसार इस बार बड़े डिलीवरी स्टेशनों जैसे मुंबई, दिली, हैदराबाद, चेन्नई व पुणे में अधिक संख्या में इन कर्मचारियों की नियुक्ति की गयी है।

    इसी के साथ इस बार अमेज़न इस 20 कस्टमर केयर साइट के साथ मिलकर भी काम कर रहा है, जिसके द्वारा विभिन्न क्षेत्रीय भाषाओं में भी ग्राहक की समस्या का समाधान किया जा सकेगा।

    फ्लिपकार्ट ने भी अपनी ‘बिग बिलियन डे’ से के चलते अपने डिलीवरी सिस्टम पर बड़ा निवेश किया है। इसके तहत फ्लिपकार्ट इस बार करीब 65 आपूर्ति सेंटर से इस काम को अंजाम देगा। फ्लिपकार्ट ने भी इसके लिए अतिरिक्त 30,000 नए डिलीवरी स्टाफ की भर्ती की है।

    इस सीज़न करीब 2 करोड़ लोगों द्वारा विभिन्न ई-कॉमर्स साइट द्वारा खरीददारी किए जाने की उम्मीद है। जिसके चलते ये कंपनियां करीब 3 अरब डॉलर का कुल व्यापार कर लेंगी।

    इन सभी ई-कॉमर्स साइट को इस त्योहार के सीज़न का बेहद इंतज़ार होता है, जिसके चलते ये अपनी वार्षिक आय का बड़ा हिस्सा महज इन कुछ ही दिनों में कमा लेती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *