Wed. Feb 21st, 2024
    अमेरिकी हवाई हमला

    अमेरिका समर्थित गठबंधन की सेना ने कबूल किया कि उन्होंने गैर इरादतन सीरिया और इराक में 1321 नागरिको की हत्या की है। जब से इन मुल्कों ने इस्लामिक स्टेट के खिलाफ अभियानों की शुरुआत हुई है।

    जॉइंट टास्क फोर्स आपरेशन इन्हेरेंट रेसॉल्व पर आधारित सूचना के मुताबिक गठबंधन की कार्रवाई में गैर इरादतन 1321 नागरिको की हत्या हुई है।

    मानव अधिकार निगरानी समूह के मुताबिक अमेरिस नेतृत्व के गठबंधन ने जनवरी 2019 में सीरिया में हमले में मारे गए 11 नागरिकों को करीब 80000 डॉलर की रकम मुहैया करनी है।

    बहरहाल अभी तकक नागरिको को कोई मुआवजा नही दिया गया है जिनके परिवारों की हत्या गैरकानूनी गठबंधन के हवाई हमले में हो गयी थी। यह हमले साल 2017 से 2018 के बीच किये गए थे जिसमें 60 नागरिको की हत्या हुई थी और संपत्ति का भारी नुकसान हुआ था।

    इस अभियान को आईएस के खिलाफ अमेरिका और उसके सहयोगी देशो ने अंजाम दिया था। इसे न सीरिया की सरकार और न ही संयुक्त राष्ट्र ने मान्यता दी थी।

    सीरिया में जंग की शुरुआत मार्च 2011 से शुरू हुई थी और तब से 370000 लोगो की मौत हो चुकी है और लाखो लोग सीरिया के भीतर या विदेशो में मजबूरन विस्थापित हुए हैं। रूस समर्थित आक्रमक हमले उत्तर हमा और दक्षिणी इदलिब में कोई खास प्रगति हासिल करने में नाकाम रहे हैं।

    इस्लामिक स्टेट और आतंकी समूह सीरिया के विद्रोहियों के गढ़ और आसपास के इलाको में अपने अभियान का विस्तार करने का कार्य कर रहा हैं। तुर्की और रूस के बीच बीते साल सितम्बर में संघर्षविराम समझौता हुआ था, जिसके तहत नागरिकों के इलाको में हवाई हमला करना वर्जित था।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *