शनिवार, अप्रैल 4, 2020

अमेरिकी शान्ति योजना का सामना करने को तैयार ईरान, हमास

Must Read

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए।...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

ईरान (Iran) के ख़ुफ़िया मंत्री और फिलिस्तीन के इस्लामिक आंदोलन हमास के आला अधिकारीयों ने वांशिगटन की मध्य पूर्व के लिए लायी शांति योजना से मुकाबला करने पर सहमति जाहिर की है। स्टेट न्यूज़ एजेंसी आईआरएनए ने सोमवार को यह रिपोर्ट भेजी थी।

लेबनॉन में हमास के सूत्र में एएफपी से कहा की दोनों पक्षों ने बेरूत में ईरानी दूतावास में वार्ता की थी। आईआरएनए के मुताबिक, महमूद अलवी ने हमास के उपप्रमुख सालेह अल जरूरी और अन्य अधिकारीयों से मुलाकात की थी इसमें लेबनान में आंदोलन के प्रतिनिधि अहमद अब्दुलहड़ी भी शामिल थे।

दोनों पक्षों ने अमेरिकी सत्कार की तरफ से चुनौतियों और बढ़ते खतरों से निपटने की जरुरत पर सहमति जाहिर की थी। डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका की शांति योजना को “डील ऑफ़ द सेंचुरी” करार दिया है। अमेरिका के शान्ति प्लान को अभी भी उजागर करा शेष है जिसे पहले से ही फिलिस्तीन ने ख़ारिज कर दिया है।

फिलिस्तीन के मुताबिक, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की नीतियां पक्षपाती तरीके से इजराइल के पक्ष में होती है। अमेरिका  के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के मध्य पूर्व राजदूत ने रविवार को संकेत दिए कि इजराइल -फिलिस्तीन शान्ति योजना का खुलासा नवंबर की शुरुआत में हो सकता है।

येरुशलम पोस्ट के इंटरव्यू में अमेरिकी राजदूत जैसन ग्रीनब्लाट ने कहा कि “मेरे ख्याल से इसका लॉजिक यह है कि हम इजराइल में नयी सरकार के गठन का इन्तजार कर रहे हैं। हमें वाकई 6 नवंबर तक इन्तजार करने की जरुरत है।”

जारेड कुशनर अमेरिका के मध्य पूर्व शान्ति योजना के रचियता है और इस योजना से पर्दा इस महीने उठना था। वरिष्ठ सुरक्षा सलाहकार जारेड कुशनर ने कि “फिलिस्तीनी आवाम अभी खुद पर शासन करने के लिए सक्षम नहीं है।”

फिलिस्तीन के प्रधानमंत्री ने बीते हफ्ते कहा कि “फिलिस्तीन के संघर्ष का कोई भी समाधान राजनीतिक होना चाहिए और यह अधिग्रहण के खात्मे पर आधारित होना चाहिए।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

एक विलेन 2: दिशा पटानी के बाद, तारा सुतारिया फिल्म से जुड़ी, जॉन अब्राहम और आदित्य रॉय कपूर भी होंगे फिल्म का हिस्सा

यह पहले बताया गया था कि जॉन अब्राहम 2014 की फिल्म, एक विलेन की अगली कड़ी बनाने के लिए बातचीत कर रहे थे। जनवरी...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए। 2 दिन में 16.03 करोड़...

महाराष्ट्र सरकार को कोई खतरा नहीं – कांग्रेस

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बुधवार शाम को अपने सभी विधायकों की बैठक बुलाई है। राकांपा नेताओं ने कहा कि 26 मार्च को होने...

पीएम मोदी, राहुल गांधी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके 78 वें जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा,...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -