Sun. Apr 14th, 2024
मिसाइल परिक्षण

अमेरिका ने इस हफ्ते की शुरुआत में माध्यम रेंज की क्रूज मिसाइल का परिक्षण किया था और इस मामले पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में गुरूवार दोपहर को खुली चर्चा की जाएगी। इंटरमीडिएट रेंगे न्यूक्लियर फाॅर्स संधि के तहत इसका परिक्षण प्रतिबंधित है।

यूएन में रुसी अभियान के स्थायी प्रेस सचिव फेदोर ने स्पुतनिक से कहा कि “इस बैठक का आयोजन कल किया जायेगा। अंतरराष्ट्रीय शान्ति और सुरक्षा को को ख़तरा पंहुचाने के एजेंडा के तहत खुली चर्चा की जाएगी और इस वार्ता के आयोजन का समय दोपहर 3:00 बजे हैं।

सोमवार को अमेरिकी रक्षा विभाग ने कहा कि उन्होंने पारम्परि जमीनी क्रूज मिसाइल को लांच किया था जिसने 500 किलोमीटर तक की उड़ान भरी थी और यह रेंज आईएनएफ संधि के तहत प्रतिबंधित है। यूएन में रूस के स्थायी उप प्रतिनिधि दमित्री पोल्यान्स्कीय ने कहा कि रूस और चीन के कूत्नितिका भियानो ने यूएन में सुरक्षा परिषद् से इस मामले पर बोथक बुलाने का आग्रह किया था।

उन्होंने कहा कि इस बैठक का फोकस सिर्फ हालिया क्रूज मिसाइल का परिक्षण नहीं है बल्कि ऐसी मिसाइल की तैनाती से उत्पन्न होने वाले खतरों को भी संबोधित करना है। उन्होंने कहा कि अमेरिका विश्व में रणनीतिक संतुलन की ताकत को डगमगाने के लिए मध्यम रेंज की मिसाइल कजो विकसित और तैनात करने की योजना बना रहा है।

रूसी उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव ने राज्य समाचार एजेंसी टीएएसएस को बताया कि “यह सब बेहद अफसोसजनक है। अमेरिका ने सैन्य तनाव को बढ़ाने के लिए चाल चल रहा है लेकिन हम उकसावे पर प्रतिक्रिया नहीं देंगे।”

By कविता

कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *