दा इंडियन वायर » समाचार » अमेरिका से कोरोना की मदद लेकर आया विमान दिल्ली उतरा
विदेश समाचार

अमेरिका से कोरोना की मदद लेकर आया विमान दिल्ली उतरा

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से प्रभावित भारत को अमेरिका से मदद की पहली खेप मिली है। शुक्रवार को सुबह अमेरिका से मदद लेकर आया विमान दिल्ली उतरा। भारत में करीब 10 दिन से हर रोज 3 लाख से ज्यादा कोरोना के एक्टिव केस मिल रहे हैं। इस बीच 400 ऑक्सीजन सिलेंडर्स, करीब 10 लाख कोरोना टेस्ट किट और अन्य उपकरणों को लेकर अमेरिकी विमान इंटरनेशन एयरपोर्ट पर पहुंचा है। अमेरिकी दूतावास ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। अमेरिकी दूतावास की ओर से किए गए ट्वीट में लिखा गया है, ‘अमेरिका की ओर से कोरोना राहत को लेकर पहला विमान भारत पहुंच गया है! बीते 70 सालों की दोस्ती में अमेरिका हमेशा भारत के साथ रहा है। कोरोना संकट में भी हम साथ हैं।’

विदेश मंत्रालय की तरफ से आए बयान के मुताबिक, अमेरिकी वायुसेना के विमान सी -17 ग्लोबमास्टर III, दूसरा अमेरिकी वायु सेना वाहक कोरोना राहत आपूर्ति से भरा हुए सामान लेकर भारत पहुंच गया है। सीबीआईसी के मुताबिक, अमेरिकी की तरफ से 200 डी साइज ऑक्सजीन सिलिंडर, 223 एच साइज ऑक्सीजन सिलिंडर 210 प्लस ऑक्सीमीटर, 184,000 एबट रैपिड डायग्नोस्टिक टेस्ट किट और 84,000 एन -95 फेस मास्क भेज गए हैं।

इससे पहले सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के बीच बातचीत हुई थी। इस वार्ता के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया था, ‘हमने दोनों देशों में कोरोना वायरस के संकट को लेकर बातचीत की। भारत को अमेरिका की ओर से की जा रही मदद को लेकर मैंने प्रेसिडेंट जो बाइडेन को धन्यवाद दिया।’ वाइट हाउस की ओर से जारी बयान में भी कहा गया है, ‘राष्ट्रपति ने अमेरिका की ओर से भारत को पूर्ण सहयोग देने की अपील की है, जो कोरोना संक्रमण की नई लहर से प्रभावित है। अमेरिका की ओर से भारत को आपातकालीन मदद दी जा रही है, जैसे ऑक्सीजन से जुड़ी सप्लाई, वैक्सीन मैटीरियल आदि।’

अमेरिका के अलावा संकट की इस घड़ी में कई अन्य देश भी सामने आए हैं। बता दें कि रोमानिया की तरफ से भी 80 ऑक्सीजन कंसेनटेटर्स और 75 ऑक्सजीन सिलिंडर भारत भेजे गए हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने रोमानिया का शुक्रिया अदा किया है। वहीं जापान ने भी संकट की इस घड़ी में भारत का साथ देने का फैसला लिया है। भारत में जापान के राजदूत, सतोशी सुजुकी ने कहा कि जापान जरूरत के समय में भारत के साथ खड़ा है। हमने 300 ऑक्सीजन जनरेटर और 300 वेंटिलेटर प्रदान करने की प्रक्रिया के साथ आगे बढ़ने का फैसला किया है।

बता दें कि आयरलैंड भी संकट की इस घड़ी में भारत का साथ निभा रहा है। आयरलैंड से भारत को 700 ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर और 365 वेंटिलेटर आज सुबह भारत पहुंचा गया। वहीं यूके से 280 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के साथ मेडिकल सामानों की तीसरी खेप भी आज सुबह भारत पहुंच गई। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने यूके का धन्यवाद देते हुए कहा कि ये महामारी के खिलाफ लड़ाई में हमारी साझा प्रतिबद्धता को दिखाती है।

About the author

आदित्य सिंह

दिल्ली विश्वविद्यालय से इतिहास का छात्र। खासतौर पर इतिहास, साहित्य और राजनीति में रुचि।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!