Wed. Nov 30th, 2022
    अमेरिका और पाकिस्तान

    पाकिस्तान और अमेरिका के बीच सबंध दिन-प्रतिदिन बिगड़ते जा रहे हैं और मौजूदा समय में सबसे निचले स्तर पर है।

    न्यूज़ इंटरनेशनल के मुताबिक वांशिगटन ने शुक्रवार को ऐलान किया कि वह पाकिस्तानी राजनयिकों के लिए कर में रिआयत को खत्म कर रहे हैं। हाल ही में अमेरिका ने पाकिस्तानी राजनयिकों पर कई पाबंदियां लगाई थी।

    अमेरिका ने पाकिस्तानी राजदूतों को वांशिगटन में स्थित दूतावास के 25 किलोमीटर की परिधि से बाहर जाने पर पाबन्दी  लगा दी थी अब उन्हें इस परिधि को पार करने के लिए मंज़ूरी लेनी होती है। इस निर्णय को तत्काल लागू किया गया है और शुक्रवार को अमेरिका में 20 पाकिस्तानी राजदूतों ने कर रिआयत कार्डो को अमेरिकी अधिकारियों के हवाले कर दिया था।

    हालाँकि पाकिस्तान अब भी इस्लामाबाद में काररत अमेरिकी राजनयिकों को कर में रिआयत मुहैया करना जारी रखेगा। कर में रिआयत कार्ड खरीददारी और कई अन्य करो से अमेरिका में ेहने वाले विदेशी अधिकारीयों को कर से निजात देता है।

    गुरूवार को वांशिगटन में स्थित पाकिस्तानी दूतावास ने कहा कि “दो देश इस मसले पर चर्चा कर रहे हैं और उम्मीद है इस समस्या का जल्द समाधान निकल जायेगा। इस  वक्त पाकिस्तान और अमेरिका के बीच परस्परिकता के सिद्धांत पर आधारित रिआयत पर मतभेद जारी है। लेकिन इससे किसी भी तरीके के विशेषाधिकारों को नहीं छीनना चाहिए।”

    जनवरी 2018 से पाकिस्तान और अमेरिका के सम्बन्धो के बीच खटास आ रखी है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान को दी जानी वाली वार्षिक 1.3 अरब डॉलर की सहायता को बंद कर दिया है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *