Mon. Apr 22nd, 2024
    अमेरिका और तुर्की

    अमेरिका के कार्यकारी रक्षा सचिव पैट्रिक शानहन ने तुर्की के रक्षा मंत्री हुलसी अकार से मुलाकात की और रक्षा, सुरक्षा और अर्थव्यवस्था से सम्बंधित द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की थी। पेंटागन ने यह जानकारी दोनों देशों के मध्य मतभेदों के दौरान जारी की है।

    हाल ही में तुर्की ने रूस से एस-400 हवाई रक्षा प्रणाली का सौदा किया था जिस पर अमेरिका ने विरोध व्यक्त किया था। जारी बयान के मुताबिक, दोनों प्रमुख नाटो के सहयोगियों के तौर पर मिले और उनकी चर्चा का फोकस हितो पर था ने कि स्थितियों पर था।

    हालाँकि मंगलवार को आयोजित बैठक की पेंटागन ने अधिक जानकारी मुहैया नहीं की है। 3 अप्रैल को अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेन्स ने तुर्की को  रूस से एस 400 एयर डिफेन्स सिस्टम खरीदने के बाबत चेतावनी दी थी अलबत्ता अंकारा इस सौदे पर अडिग है।

    मार्च में कांग्रेस की सुनवाई के दौरान यूरोपीय कमांड के प्रमुख जनरल कर्टिस स्कापाररोट्टी ने अमेरिका को तुर्की के ख़रीदे हुए एफ-35 लड़ाकू विमान में कटौती करने की सलाह दी थी। यह तब करने को कहा जब अंकारा रूस से एस 400 रक्षा प्रणाली खरीद लेगा। वांशिगटन ने अंकारा को एमआईएम-104 पेट्रियट मिसाइल सिस्टम खरीदने का प्रस्ताव दिया था जिसे तुर्की ने नकार दिया था।

    अमेरिका सीरिया में असद सरकार के खिलाफ वाईपीजी और अन्य कुर्दिश चरमपंथियों का समर्थन करता हैं और तुर्की खिलाफत करता है। हाल ही में तुर्की के राष्ट्रपति फुआत ओक्टाय ने माइक पोम्पिओ पर भड़कते हुए कहा कि “अमेरिका को एक का चयन करना होगा, या तो हमारा सहयोगी बनकर रहे या फिर हमारी दोस्ती को जोखिम में डालकर आतंकियों की सेना को ज्वाइन कर ले।”

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *