Tue. Apr 16th, 2024
    उत्तर कोरिया

    उत्तर कोरिया ने मंगलवार को दी पूर्वी सागर में दो अज्ञात प्रोजेक्टाइल को दागा है। बीते महीनो में यह हालिया लांच है। यह आठवीं बार है कि उत्तर कोरिया प्रोजेक्टाइल को दाग रहा है और इनका शोर्ट रेंज होने का यकीन है और साम्यवादी राष्ट्र ने मई से यह दसवां लांच किया है।

    जॉइंट चीफ ऑफ़ स्टाफ ने कहा कि यह प्रोजेक्टाइल उत्तर कोरिया के दक्षिण प्योंगन प्रान्त से पूर्वी सागर की तरफ दागी गयी थी। हमारी सेना स्थिति का जायजा ले रही है। हाल ही में उत्तर कोरिया की पहली उप विदेश मंत्री चोए सोन हुई ने कहा कि उनका देश सितम्बर के अंत में अमेरिका के साथ कार्यकारी स्तर की वार्ता को बहाल करने के इच्छुक है।”

    उन्होंने कहा कि “वांशिगटन को भी उत्तर कोरिया द्वारा स्वीकार्य नए प्रस्ताव के सतह आना चाहिए। हम मसलो पर व्यापक चर्चा के लिए अमेरिकी पक्ष के साथ बैठने के लिए इच्छुक है और इसके लाइट समय और स्थान पर रजामंदी सितम्बर के अंत पर हुई है।”

    रविवार को राज्य सचिव माइक पोम्पियो ने कहा कि “अगर उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने वार्ता की टेबल पर वापस आने के विचार का इजहार नहीं किया तो डोनाल्ड ट्रम्प काफी निराश हो जायेगे। निरंतर मिसाइल लांच करना दोनों देशो के बीच शुरूआती समझौते का सरासर उल्लंघन है।”

    फ़रवरी में हनोई मुलाकात के बाद से उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच बातचीत का सिलसिला ठप पड़ा हुआ है। दोनों पक्ष प्रतिबंधो से रियायत देने के मामले को हल नहीं कर सके और न ही कोई समझौता किया था।

    वांशिगटन अपनी स्थिति पर कायम रहा है कि प्रतिबंधो को तभी हटाया जायेगा जब प्योंगयांग अपने परमानी हथियारों का पूर्ण और निरीक्षित निरस्त्रीकरण करेगा।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *