Thu. Jun 20th, 2024
    डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन

    अमेरिका और उत्तर कोरिया ने वर्किंग लेवल परमाणु निरस्त्रीकरण वार्ता को 5 अक्टूबर से शुरू करने पर रजामंदी जाहिर की है, यह प्योंगयांग के हथियारों को त्यागने की प्रक्रिया को तीव्र करेगा। कोरियाई सेंट्रल न्यूज़ एजेंसी पर उत्तर कोरिया के प्रथम उप विदेश मंत्री चोए सोन हुई ने बयान दिया कि प्योंगयांग और वांशिगटन 4 अक्टूबर को पहली मुलाकात को तैयार हो गए हैं और वोर्किं लेवल की बातचीत 5 अक्टूबर से करेंगे।

    दक्षिण कोरिया की योन्हाप न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, हालाँकि आगामी वार्ता के स्थान का खुलासा नहीं किया गया है। चोए ने बयान में कहा कि “डीपीआरके-अमेरिका वर्किंग लेवल वार्ता के लिए डीपीआरके का प्रतिनिधि पक्ष तैयार है। यह मेरी उम्मीद है कि वर्किंग लेवल वार्ता उत्तर कोरिया-अमेरिका संबंधो को सकारात्मक दिशा की तरफ ले जाने में गति प्रदान करेंगे।”

    उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने फ़रवरी में हनोई में मुलाकात की थी लेकिन यह शिखर सम्मेलन बगैर किसी समझौते के खत्म हो गया था। दोनों पक्षों के बीच प्रतिबंधो से रियायत को लेकर मतभेद नहीं सुलझ सके थे।

    उत्तर कोरिया ने हाल ही में दक्षिण कोरिया और अमेरिका के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास का विरोध किया था और इस वक्त मिसाइलों का परिक्षण किया था। जून में ट्रम्प और किम ने दक्षिण कोरियाई देशो को विभाजित करने वाले इलाको में मुलाकात की थी।

    डोनाल्ड ट्रम्प और माइक पोम्पियो ने उत्तर कोरिया के साथ वार्ता के जल्द शुरू होने की उम्मीद व्यक्त की थी। उत्तर कोरिया ने निरंतर आर्थिक वृद्धि के लिए प्रतिबंधो को हटाने की मांग की थी लेकिन अमेरिका अपनी स्थिति पर अडिग रहा कि परमाणु कार्यक्रम को पूरी तरह बंद न करने तक प्रतिबंधो को नहीं हटाया जायेगा।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *