सोमवार, नवम्बर 18, 2019

अमेरिका पर हमले में ईरान को एक भारी सेना का सामना करना होगा: डोनाल्ड ट्रम्प

Must Read

‘मरजावां’ बॉक्स ऑफिस दिन 2: दूसरे दिन भी जारी रहा सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म का जादू

सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म 'मरजावां' इस शुक्रवार को रिलीज़ हो चुकी है जिसे दर्शको से शानदार प्रतिक्रिया मिल रही...

तान्हाजी: क्या अजय देवगन ने इस प्रोमो क्लिप में दी काजोल की एक झलक?

अजय देवगन की आगामी फिल्म 'तान्हाजी: द अनसंग वारियर' घोषणा होने के बाद से ही चर्चा का विषय रही...

अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘झुंड’ को मिला कानूनी नोटिस

हैदराबाद के फिल्म निर्माता नंदी चिन्नी कुमार ने आगामी हिंदी फिल्म 'झुंड' के निर्माताओं और अभिनेता अमिताभ बच्चन, जो...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

ईरान (Iran) के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने हाल ही में व्हाइट हॉउस की कार्यवाई को मानसिक अक्षमता करार दिया था। इसके प्रतिकार में डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि “अमेरिका किसी भी चीज पर ईरान का हमला पर उन्हें एक महान और भारी सेना का सामना करना होगा।”

तेहरान द्वारा वांशिगटन के निगरानी ड्रोन को मार गिराने के बाद अमेरिका और ईरान के नेताओं के बीच तीखी जुबानी जंग जारी है। डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट कर कहा कि “यह ईरान का बेहद जाहिल और अपमानिक बयान था, यह दिखाता है कि वह असलियत को नहीं समझते हैं।”

उन्होंने कहा कि “ईरान की अद्भुत जनता जूझ रही है और इसके लिए कोई कारण नहीं है। उन्हें नेतृत्व ने पूरा धन आतंकवाद पर खर्च कर दिया है, और अन्य सभी पर बेहद नमात्र खर्चा किया गया है।”

उन्होंने कहा कि “अमेरिका नहीं भूला है कि उन्होंने आईईडी और ईएफपी का इस्तेमाल किया था जिससे 2000 अमेरिकी लोगो की जान गयी थी और कई जख्मी हुए थे। अमेरिका किसी भी चीज पर ईरान का हमला पर उन्हें एक महान और भारी सेना का सामना करना होगा।”

ईरान और अमेरिकी नेताओं के बीच भी तीखी प्रक्रिया दी जा रही है। हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलहकार जॉन बोल्टन ने सख्त लहजे में कहा था कि “ईरान के साथ बातचीत के लिए दरवाजे खुले हैं और अब बस ईरान को उस खुले दरवाजे से प्रवेश करना है।”

ईरान ने मंगलवार को अमेरिका के प्रतिबंधों को खारिज कर दिया था और कहा कि हालिया प्रतिबन्ध प्रदर्शित करते हैं कि अमेरिका वार्ता का प्रस्ताव देकर झूठ बोल रहा था। अमेरिका ने सोमवार को ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खमेनेई और अन्य आठ नेताओं पर प्रतिबन्ध लगा दिए थे।

अमेरिका ने ओमान की खाड़ी में हुए टैंकर हमले का आरोप ईरान पर लगाया था। ईरानी राष्ट्रपति ने कहा कि “इसी दौरान आप बातचीत के लिए प्रस्ताव दे रहे है, आप विदेश मंत्री पर प्रतिबन्ध लगाना  चाहते हैं। यह सच है कि आप झूठ बोल रहे हैं।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

‘मरजावां’ बॉक्स ऑफिस दिन 2: दूसरे दिन भी जारी रहा सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म का जादू

सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म 'मरजावां' इस शुक्रवार को रिलीज़ हो चुकी है जिसे दर्शको से शानदार प्रतिक्रिया मिल रही...

तान्हाजी: क्या अजय देवगन ने इस प्रोमो क्लिप में दी काजोल की एक झलक?

अजय देवगन की आगामी फिल्म 'तान्हाजी: द अनसंग वारियर' घोषणा होने के बाद से ही चर्चा का विषय रही है। ये पीरियड ड्रामा बॉलीवुड...

अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘झुंड’ को मिला कानूनी नोटिस

हैदराबाद के फिल्म निर्माता नंदी चिन्नी कुमार ने आगामी हिंदी फिल्म 'झुंड' के निर्माताओं और अभिनेता अमिताभ बच्चन, जो फिल्म में मुख्य भूमिका निभा...

सलमान खान के साथ नजर आये आयुष शर्मा और जहीर इकबाल, देखिये तसवीरें

सलमान खान बहुत व्यस्त हैं। इन दिनों वह अपनी आगामी फिल्म 'दबंग 3' का प्रचार कर रहे हैं जिसमे सोनाक्षी सिन्हा, साईं मांजरेकर और...

शाहरुख़ खान ने किया करम बाथ को कौर सिंह पर फिल्म बनाने के लिए प्रेरित

वह 2017 था जब खबरें सामने आईं कि सुपरस्टार शाहरुख खान ने दिग्गज मुक्केबाज कौर सिंह को 5 लाख रुपये प्रदान किए हैं, जो...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -