गुरूवार, नवम्बर 14, 2019

अमित शाह बांग्लादेश समकक्षी के साथ अवैध प्रवासियों, आतंकवाद पर करेंगे चर्चा

Must Read

गन्ने को प्रदेश के औद्योगिक विकास की बुनियाद बनाएंगे : योगी

लखनऊ, 13 नवम्बर(आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को यहां कहा कि भविष्य में गन्ना प्रदेश...

शी चिनफिंग ने एक्रोपोलिस संग्रहालय का दौरा किया

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और उनकी पत्नी फंग लीयुआन ने 12 नवंबर को ग्रीस के...

हांगकांग चीन का घरेलू मामला : चीन

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। हांगकांग चीन का हांगकांग है। हांगकांग का मामला चीन का घरेलू मामला है। कोई भी...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

भारत के गृह मन्त्री अमित शाह अपने बंगलादेशी समकक्षी असदुज्ज्मान खान के समक्ष 7 अगस्त को अवैध प्रवासी मुद्दा उठाएंगे। दोनों नेताओं की मुलाकात राष्ट्रीय राजधानी में होगी। भारत अपने पड़ोसी  मुल्क के साथ वापसी संधि पर हस्ताक्षर करने के लिए उत्सुक है।

बांग्लादेश-भारत की मुलाकात

असम के राष्ट्रीय नागरिक पंजीकरण की सूची में से 40 लाख लोगो का नाम नहीं है। इस साथ ही वे सीमा पार तस्करी, जाली भारतीय मुद्रा, भारतीय चरमपंथी समूह और रोहिंग्या शरणार्थियों के मामले पर चर्चा करेंगे। दोनों देशों में आम चुनावो के बाद भारत और बांग्लादेश के बीच पहली द्विपक्षीय वार्ता है।

गृह मंत्री का कार्यभार सँभालने के बाद अमित शाह की किसी विदेशी नेता के साथ पहली मुलाकात है। श्रीलंका में हालिया ईस्टर बम धमाके के बाबत भी चर्चा की जाएगी। शाह अपने बंगलादेशी समकक्षी से आतंकवादी समूह जमात उल मुजाहिद्दीन के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आग्रह करेंगे, इस आतंकी समूह का अलकायदा के साथ करीबी सम्बन्ध होने का संदेह है।

इस समूह को हाल ही में केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने यूपीपीए के तहत प्रतिबंधित कर दिया था। यह समूह पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, असम के युवाओं को सोशल मीडिया पर आतंकवादी समूह में शामिल होने के लिए उकसा रहा था। दोनों नेता ढाका में स्टेट ऑफ़ द आर्ट भारतीय वीजा आवेदन केंद्र के एक होने के स्टेटस के बारे में अपडेट लेंगे। इसका उद्घाटन  गत वर्ष पूर्व गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बंगलादेशी दौरे के दौरान किया था।

बांग्लादेश से प्रत्येक वर्ष 10 लाख से अधिक पर्यटक भारत आते हैं। ढाका में भारतीय उच्चायोग और चित्तगांव व राजशाही में दो सहायक उच्चायोग है और यहाँ से सबसे अधिक भारतीय वीजा दिए जाते हैं। अधिकारीयों के मुताबिक, भारत और बांग्लादेश के आंतरिक सुरक्षा अधिकारीयों के बीच प्रतिनिधि स्तर की वार्ता भी होगी।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

गन्ने को प्रदेश के औद्योगिक विकास की बुनियाद बनाएंगे : योगी

लखनऊ, 13 नवम्बर(आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को यहां कहा कि भविष्य में गन्ना प्रदेश...

शी चिनफिंग ने एक्रोपोलिस संग्रहालय का दौरा किया

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और उनकी पत्नी फंग लीयुआन ने 12 नवंबर को ग्रीस के राष्ट्रपति प्रोकोपिस पावलोपोलोस दंपति के...

हांगकांग चीन का घरेलू मामला : चीन

बीजिंग, 13 नवंबर (आईएएनएस)। हांगकांग चीन का हांगकांग है। हांगकांग का मामला चीन का घरेलू मामला है। कोई भी विदेशी सरकार, संगठन और निजी...

मोदी हर काम में पादर्शिता चाहते हैं : साध्वी निरंजन ज्योति

नई दिल्ली, 13 नवंबर (आईएएनएस)। ग्रामीण विकास राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चाहते हैं कि हर काम...

बीबी की आदतों से आजिज इंजीनियर पति ने जान दे दी

फरीदाबाद, 13 नवंबर (आईएएनएस)। बीबी से आए-दिन होने वाली चिक-चिक से परेशान इंजीनियर ने जहर खा लिया। उसे गंभीर हाल में अस्पताल में दाखिल...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -