Sat. Jul 13th, 2024
    अमित भंडारी

    भारत के पूर्व तेज गेंदबाज और डीडीसीए के सदस्य अमित भंडारी पर सोमवार को अंडर-23 की टीम सेलक्शन के दौरान सेंट स्टीफन कॉलेज ग्राउंड पर कुछ अज्ञात बदमाशो ने हॉकी से हमला कर दिया। भंडारी को सर और कान के पास चोट आई है, जिसके बाद उन्हे उनके साथी सुकविंदर सिंह सिविल लाइंस पर स्थित संत परमानंद हस्पताल लेकर गए। इस कार्य की निंदा दिल्ली के पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर और वर्तमान भारतीय क्रिकेटर शिखर धवन ने भी की है।

    गंभीर इस घटना को देखकर नाराज थे और उन्होंने कहा कि वह सुनिश्चित करते हैं कि घटना “कालीन के नीचे फिसल नहीं सकती।” उन्होंने ट्वीट किया: “राजधानी के दिल में ऐसा होता देख निराश हूं। यह कारपेट के नीचे नहीं जा सकता है और मैं व्यक्तिगत रूप से इसे सुनिश्चित करूंगा। शुरू करने के लिए मैं सभी क्रिकेट के लिए आजीवन प्रतिबंध लगाने का आह्वान कर रहा हूं।” इस हमले को अंजाम देने वाले खिलाड़ी ने अपने चयन ना होने के कारण ऐसा किया है”

    शिखर धवन और वीरेंद्र सहवाग ने भी इस पर अपनी नाराजगी व्यक्त की और कहा कि जिसने भी यह किया है उनके ऊपर कड़े सजा का एलान हो।

    दिल्ली के वरिष्ठ और अंडर -23 टीम के मैनेजर शंकर सैनी ने इस घटना को याद करते हुए कहा कि कुछ लोग भंडारी के साथ बातचीत कर रहे थे, जब वह दोपहर का भोजन कर रहे थे। उसके कुछ मिनट बाद, हॉकी स्टिक रोड और साइकल की चेन वाले एक समूह ने भंडारी को घायल कर दिया।

    सैनी ने कहा, ” मैं डेरे के अंदर एक सहयोगी के साथ और अन्य चयनकर्ताओं के साथ भंडारी के साथ मेरा भोजन कर रहा था और टीम के वरिष्ठ कोच मिथुन मन्हास संभावित खिलाड़ियों को ट्रायल मैच खेला रहे थे। एक पुरुष पहले भंडारी के पास आया और गर्मजोशी से आदान-प्रदान किया।” भंडारी और दो लोगों के बीच। वे चले गए और इससे पहले कि हम अपने विचार एकत्र कर पाते, अचानक हॉकी स्टिक, रॉड और साइकिल की चेन से लैस कुछ 15 लोग चार्जिंग पर आ गए।”

    दिल्ली के पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, ” जब खिलाड़ी अपना ट्रायल दे रहे थे तो हमने भंडारी की जान बचाई, वह हमें भी डराने लगे और उनमें से एक ने कहा, ” इसके पास मत आना वरना हम तुम्हे शूट कर देंगे। उसके बाद उन्होने भंडारी को हॉकी स्टिक और रोड से मारकर घायल कर दिया।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *