अटल पेंशन योजना : नियम, जानकारी, योग्यता, लाभ

अटल पेंशन योजना
अटल पेंशन योजना
bitcoin trading

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) एक ऐसी योजना है, जिसके जरिये ग्रामीण और पिछड़े इलाकों में रह रहे लोगों को विभिन्न वित्तीय सेवाएं मिलती हैं।

अटल पेंशन योजना की शुरुआत साल 2015 में वर्तमान नरेन्द्र मोदी की बीजेपी सरकार ने की थी। इस योजना से पहले भी इस प्रकार की योजना चलायी जा चुकी है। उदाहरण के तौर पर, कांग्रेस की सरकार ने इससे पहले ऐसी ही एक योजना की शुरुआत की थी, जिसका नाम स्वावलम्बन योजना था। इस योजना को हालाँकि ज्यादा लोगों ने स्वीकार नहीं किया था।

अटल पेंशन योजना के तहत पिछड़े लोग, जो मुख्य कार्य प्रणाली के अंतर्गत नहीं आते हैं, जैसे घर का नौकर, निजी ड्राइवर, माली आदि, को विभिन्न वित्तीय स्कीमों का लाभ मिलता है।

इस लेख में बताई गयी सारी जानकारी 2018 के नियमों के अनुरूप है।

अटल पेंशन योजना क्या है? (what is atal pension yojana in hindi)

अटल पेंशन योजना के तहत इन पिछड़े लोगों को पैसे बचाने और निवेश करने का मौका मिलता है। इस योजना की मदद से ये लोग अपने बुढ़ापे के लिए पैसे बचा सकते हैं और रिटायरमेंट के बाद इन्हें एक निश्चित राशि मिलती है।

इस योजना में एक बड़ी बात यह है कि जो लोग इस योजना से 31.12.2015 से पहले जुड़े थे, उनकी सालाना बचत के ऊपर से 50 फीसदी भारत सरकार उन्हें देगी। इस योजना में एक शर्त यह है कि सरकार अधिकतम एक व्यक्ति को सालाना सिर्फ 1,000 रूपए ही देगी।

इसके अलावा सरकार की शर्त यह भी है कि वह सिर्फ पांच सालों के लिए ही अपना योगदान देगी।

अटल पेंशन योजना के लिए योग्यता (eligibility for atal pension yojana in hindi)

आप अटल पेंशन के लिए योग्य हैं, यदि:

  • आप एक भारतीय नागरिक हैं
  • आपके पास एक योग्य बैंक अकाउंट है
  • आपकी उम्र 18 साल से 40 साल के बीच है।

अटल पेंशन योजना में महीने में कितने पैसे देने हैं?

अटल पेंशन योजना एक निश्चित समय के लिए बचत प्लान है, जो यह निश्चित करता है कि आपको हर महीने 1000/2000/3000/4000 या 5000 रूपए की पेंशन मिले।

आपको हर महीने कितने पैसे देने हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है, कि आपको रिटायर होने के बाद (60 साल उम्र) हर महीने कितनी पेंशन चाहिए?

इसका मतलब यह है कि यदि आप 40 साल की उम्र में भी अटल पेंशन योजना से जुड़ते हैं, तो आपको अगले 20 साल तक पैसे बचाने होंगें।

यहाँ दी गयी सारणीं में हमनें सूचि बनायीं है, जिससे आप अपनी पेंशन राशि के हिसाब से पैसे बचा सकते हैं।

1. यदि आपको 60 की उम्र के बाद हर महीनें 1000 रूपए की पेंशन चाहिए, तो :

शुरूआती उम्र इतने साल का योगदान महीने की किश्त (रूपए) हर महीने मिलने वाली पेंशन
18 42 42 1000
20 40 50 1000
25 35 76 1000
30 30 116 1000
35 25 181 1000
40 20 291 1000

2. यदि आपको रिटायर होने के बाद हर महीने 2000 रूपए की पेंशन चाहिए, तो :

शुरूआती उम्र इतने साल का योगदान महीने की किश्त (रूपए) हर महीने मिलने वाली पेंशन
18 42 84 2000
20 40 100 2000
25 35 151 2000
30 30 231 2000
35 25 362 2000
40 20 582 2000

3. यदि आपको हर महीने 3000 रूपए की पेंशन चाहिए तो,

शुरूआती उम्र  इतने साल का योगदान महीने की किश्त (रूपए) हर महीने मिलने वाली पेंशन
18 42 126 3000
20 40 150 3000
25 35 226 3000
30 30 347 3000
35 25 543 3000
40 20 873 3000

4. यदि आपको हर महीने 4000 रूपए की पेंशन चाहिए, तो :

शुरूआती उम्र इतने साल का योगदान महीने की किश्त (रूपए) हर महीने मिलने वाली पेंशन
18 42 168 4000
20 40 198 4000
25 35 301 4000
30 30 462 4000
35 25 722 4000
40 20 1164 4000

5. यदि आपको रिटायर होने के बाद हर महीने 5000 रूपए की पेंशन चाहिए, तो :

शुरूआती उम्र इतने साल का योगदान महीने की किश्त (रूपए) हर महीने मिलने वाली पेंशन
18 42 210 5000
20 40 248 5000
25 35 376 5000
30 30 577 5000
35 25 902 5000
40 20 1454 5000

अटल पेंशन योजना के फायदे (benefits of atal pension yojana in hindi)

अटल पेंशन योजना अपने से जुड़े लोगों को निश्चित तौर पर प्रति महीना 1000 रूपए से 5000 रूपए की पेंशन देती है। इस योजना के तहत ग्राहक जमा करने वाली राशि को बढ़ा और घटा दोनों सकता है।

यदि इस योजना किसी व्यक्ति की मौत हो जाती है, तो उनके पति/पत्नी को पूरी पेंशन उनके मरने तक मिलेगी। व्यक्ति के पति या पत्नी की मृत्यु के पश्चात भी किसी भी चुने गए व्यक्ति को पेंशन मिलेगी।

इसके अलावा यदि इस योजना से जुड़े किसी व्यक्ति की 60 साल की उम्र से पहले मौत हो जाती है, तो उनके पति/पत्नी के पास यह विकल्प होता है, कि वे या तो अभी तक जमा कराई गयी सारी राशि ले लें, या फिर पेंशन खाते में पैसे डालते रहे।

अटल पेंशन योजना के फायदे मुख्य रूप से उन लोगों के लिए हैं, तो मुख्यधारा के कार्यों में शामिल नहीं हैं। इसकी मदद से गरीब लोगों को भी पेंशन की सुविधा मिलती है।

इस योजना से जुड़े किसी भी सवाल के लिए आप अटल पेंशन योजना टोल फ्री नंबर पर बात कर सकते हैं। अटल पेंशन योजना का टोल फ्री नंबर 1800-180-1111 / 1800-110-001 1800-180-1111 / 1800-110-001 है।

अटल पेंशन योजना के लिए आवेदन कैसे करें? (how to apply for atal pension yojana in hindi)

अटल पेंशन योजना का आवदेन पत्र सभी बैंकों की वेबसाइट पर मिल जाएगा। आप इसे बैंक की वेबसाइट पर ऑनलाइन ही भर सकते हैं। इसके लिए आपको फॉर्म डाउनलोड करना पड़ेगा और इसमें अपनी जानकारी देनी होगी।

यदि आप इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं करना चाहते हैं, तो आप अपने पास के बैंक में जाकर भी अटल पेंशन योजना का फॉर्म भर सकते हैं।

अटल पेंशन योजना का आवदेन पत्र (application for atal pension yojana in hindi)

अटल पेंशन योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको एक फॉर्म भरना होगा, जो आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से भर सकते हैं।

इस फॉर्म को भरने के लिए आप अपनी और अपने पति/पत्नी का आधार कार्ड दिखाना होगा। आधार कार्ड की मदद से आपकी पहचान की पुष्टि की जायेगी।

अटल पेंशन योजना का फॉर्म इस समय सभी मुख्य भारतीय भाषाओँ में उपलब्ध है, इनमें हिंदी, बांग्ला, इंग्लिश, गुजराती, तेलुगु, कन्नड़, ओड़िआ, तमिल और मराठी शामिल है।

अटल पेंशन योजना का फॉर्म डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें – अटल पेंशन योजना आवदेन पत्र

इस फॉर्म में आपको जो जानकारी भरनी है, वह यहाँ नीचे दी गयी है,

1. बैंक की जानकारी 2. निजी जानकारी 3. पेंशन सम्बन्धी जानकारी 4. नाबालिक आवदेक की जानकारी
बैंक खाता नंबर नाम पेंशन राशि
1000/2000/3000/4000/5000
जन्म तिथि
बैंक का नाम जन्म तिथि हर महीने बचत राशि परिजनों के नाम
बैंक की शाखा ई-मेल आईडी नाबालिक की टैक्स सम्बन्धी जानकारी
विवाहित, हाँ/ना
पति/पत्नी का नाम
नामिती का नाम
नामिती से सम्बन्ध
आयु
मोबाइल नंबर
आधार कार्ड जानकारी

स्वावलम्बन योजना से अटल पेंशन योजना स्थानांतरण

वर्तमान में जो लोग स्वावलम्बन योजना से जुड़े हैं, उन्हें सीधा अटल पेंशन योजना से जोड़ दिया जाएगा। इस समय आवेदक के पास यह विकल्प होता है, कि वे या तो इस योजना से बाहर निकल सकते हैं, या फिर इसे जारी रख सकते हैं।

यदि आप इस योजना से बाहर निकलना चाहते हैं, तो आपको अबतक की जमा राशि वापस मिल जायेगी।

इसके अलावा सरकार की राहत आपको सिर्फ 5 साल के लिए ही मिलेगी।

इसका मतलब यह है कि यदि आपको स्वावलम्बन योजना के तहत 3 साल की सरकारी राहत मिल चुकी है, तो आपको नयी अटल पेंशन योजना में सिर्फ 2 साल की ही सरकारी राहत मिलेगी।

स्वावलम्बन योजना से अटल पेंशन योजना में ट्रांसफर मुख्य रूप से उन लोगों के लिए किया जाएगा, जिनकी उम्र 18 साल से 40 साल के बीच है।

यदि आप अटल पेंशन योजना से जुड़ना चाहते हैं, तो अपने पास के बैंक में जल्द जाकर इसके लिए आवदेन करें। बैंक के अधिकारी आपने जरूरी कागजात देखेंगे, जो आपको दिखाने होंगें।

यदि आपकी उम्र 40 साल से ज्यादा है, फिर भी आप अटल पेंशन योजना से जुड़ सकते हैं। इसके लिए भी वही नियम लागू होंगें, जो अन्य लोगों के लिए हो रहे हैं।

अटल पेंशन योजना बंद कैसे करें?

अटल पेंशन योजना से जुड़े प्रश्न-उत्तर

1. पेंशन क्या है? मुझे पेंशन क्यों चाहिए?

पेंशन आपको हर महीने एक निश्चित रकम देती है, जब आप रिटायर होने के बाद काम नहीं कर सकते हैं।

पेंशन की जरूरत:

  • उम्र के साथ कमाई करना मुश्किल हो जाता है।
  • घर से कमाने वाले व्यक्ति बाहर निकल जाते हैं।
  • खर्चे और महंगाई बढ़ना।
  • जीने की उम्र बढ़ना, जिससे खर्चा बढ़ता है।
  • निश्चित पेंशन से पैसे की चिंता नहीं रहती है और व्यक्ति अपनी जिंदगी ख़ुशी से जी सकता है।

2. अटल पेंशन योजना क्या है?

अटल पेंशन योजना भारत के लोगों के लिए एक ऐसी पेंशन योजना है, जिससे पिछड़े वर्ग के लोगों को पेंशन की सुविधा दी जाती है।

इस योजना के तहत लोगों को हर महीनें 1000/2000/3000/4000 और 5000 रूपए की पेंशन दी जाती है।

आपको कितनी पेंशन मिलती है, यह इस बात पर निर्भर करता है, कि आपने अपने जीवन के दौरान कितनी बचत की है।

3. अटल पेंशन योजना का लाभ कौन ले सकता है?

भारत का कोई भी नागरिक अटल पेंशन योजना से जुड़ सकता है। इसके लिए शर्तें निम्न हैं:

  • आवदेक की उम्र 18 साल से 40 साल के बीच होनी चाहिए।
  • आवेदक का एक चालु या सेविंग खाता बैंक में होना चाहिए।

आवेदक को अपना खाता खोलने के लिए आधार कार्ड जमा करना होगा। इसके अलावा उसे अपनी निजी जानकारी देनी होगी।

4. सरकार इसमें कितने साल योगदान करेगी?

भारतीय सरकार अटल पेंशन योजना में 5 साल अपना योगदान देगी। इसके लिए आप जितनी भी राशि डालते हैं, सरकार उसका 50 फीसदी अपनी तरफ से देती है।

सरकार का अधिकतम योगदान सालाना 1000 रूपए होगा। इसमें यह भी एक शर्त है, कि सरकार अपना योगदान उन्हीं लोगों को देगी, जो अन्य किसी सरकार योजना का लाभ नहीं उठा रहे हैं।

5. किन लोगों को अटल पेंशन योजना में सरकार का योगदान नहीं मिलेगा?

जो लोग पहले से ही किसी सरकार सुरक्षा योजना से जुड़े हैं, उन्हें इसमें सरकार का लाभ नहीं मिलेगा।

ये सरकारी सुरक्षा योजनाएं निम्न हैं:

  • ईपीएफ
  • कोयला खादान प्रोविडेंट फण्ड
  • असम चाय प्रोविडेंट फण्ड
  • सीमेन प्रोविडेंट फण्ड
  • जम्मू कश्मीर कर्मचारी निधि
  • अन्य प्रकार की सरकारी सुरक्षा निधि

6. अटल पेंशन योजना के तहत कितनी पेंशन मिलती है?

अटल पेंशन योजना के तहत कम से कम हर महीने 1000 रूपए की पेंशन मिलती है। इसके अलावा हर महीने 2000, 3000, 4000 और 5000 रूपए की पेंशन आपको मिलती है।

यह पेंशन आपको 60 साल की उम्र के बाद मिलना शुरू होगी।

7. अटल पेंशन योजना से जुड़ने के फायदे क्या हैं?

अटल पेंशन योजना से जुड़ने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको हर महीनें निश्चित पेंशन मिलती है।

इसके अलावा एक बड़ा फायदा यह है कि यदि आप न्यूनतम पेंशन के लिए पर्याप्त राशि जमा नहीं करा पाते हैं, तो सरकार आपके खाते में सरकार कोष से पैसे डालती है।

इसके अलावा यदि आपके बचत खाते में जरूरत से ज्यादा बचत हो जाती है, यह राशि आपको पूरी तरह से वापस मिल जायेगी और बची हुई राशि पर आपको पेंशन मिलेगी।

इसके अलावा सरकार किसी भी स्थिति में आपके खाते में आपकी जमा की गयी राशि का 50 फीसदी जमा करेगी। सरकार ऐसा पांच साल के लिए करेगी।

अटल पेंशन योजना से मिलने वाली पेंशन पर टैक्स के अंतर्गत भी प्रावधान है।

8. अटल पेंशन योजना में पैसे कैसे जमा करें?

अटल पेंशन योजना के तहत आपका पैसा आपके बैंक अकाउंट से काट लिया जाता है। आप खुद जाकर भी हर महीने पैसे जमा करा सकते हैं।

9. अटल पेंशन योजना का खाता कैसे खुलवाएं?

  1. जिस बैंक या पोस्ट ऑफिस में आपका खाता है, वहां जाएँ। यदि आपका खाता नहीं है, तो जल्द से खाता खुलवाएं।
  2. बैंक से अटल योजना का फॉर्म लें और वहां मौजूद अधिकारीयों की मदद से इस फॉर्म को भरें।
  3. इसके बाद अपना आधार नंबर और मोबाइल नंबर दें।
  4. इसका बाद नियमित रूप से खाते में पैसे जमा कराएं।

10. क्या अटल पेंशन से जुड़ने के लिए आधार कार्ड जरूरी है?

अभी तक सरकार ने इसे जरूरी नहीं बनाया है। लेकिन आवेदक की सुविधा के लिए आधार कार्ड देना जरूरी है।

11. क्या मैं बिना बचत खाते के अटल पेंशन योजना से जुड़ सकता हूँ?

बैंक या पोस्ट ऑफिस में बचत खाता होना जरूरी है। बिना बचत खाते के अटल पेंशन योजना से नहीं जुड़ा जा सकता है।

12. अटल पेंशन योजना में पैसे कैसे जमा कराएं?

आप हर महीने, हर तीन महीने या हर 6 महीनें में पैसे जमा करा सकते हैं। इसके लिए आपके बचत खाते से अपने आप निश्चित राशि कट जायेगी।

13. अटल पेंशन योजना में कितने पैसे डालने चाहिए?

आपको रिटायर होने के बाद जितनी पेंशन हर महीने चाहिए, उसके हिसाब से आप हर महीने पैसे जमा करा सकते हैं।

आप ऊपर दी गयी सूचि में अपनी उम्र के अनुसार जमा करने की राशि देख सकते हैं।

14. अटल पेंशन योजना में पैसे जमा करने की अंतिम तिथि क्या है?

इस पेंशन योजना में पैसे जमा कराने की कोई अंतिम तिथि नहीं है। आप महीने के किसी भी दिन जाकर पैसे जमा करा सकते हैं।

15. यदि किसी महीनें खाते में पर्याप्त पैसे जमा नहीं कराये गए, तो क्या होगा?

आपको किसी भी महीने का भुगतान उस महीने के भीतर ही करना होगा। यदि आप ऐसा करने में असमर्थ हैं, तो आप अगले महीनें भी पैसे जमा करा सकते हैं।

यहाँ लेकिन आपको हर महीने के लिए एक छोटी राशि जुर्माने के रूप में देनी होगी।

हर महीने लेट होने पर आपको हर 100 रूपए पर 1 रुपया जुर्माने के रूप में देना होगा।

यदि आप हर तीन महीने या 6 महीने में पैसे जमा कर रहे हैं, फिर भी यही प्रक्रिया होगी।

16. बार-बार पैसे जमा ना कराने की स्थिति में क्या होगा?

यदि आप लगातार पैसे जमा नहीं करा रहे हैं, तो आपके अकाउंट से लगातार पैसे कटते रहेंगे। लेकिन यदि आपने लम्बे समय तक पैसे नहीं जमा किये, और जुर्माना काटने की वजह से आपका बैलेंस 0 हो जाता है, तो आपका खाता बंद कर दिया जाएगा।

यदि आपको लगातार सरकारी राहत मिल रही है, तो इस सरकारी राशि को जुर्माने में शामिल नहीं किया जाएगा और सरकार को उसके पैसे वापस लौटा दिए जाएंगे।

17. एक व्यक्ति कितने अटल पेंशन योजना खाते खोल सकता है?

एक व्यक्ति अटल पेंशन योजना के तहत एक ही खाता खोल सकता है। एक से अधिक खाते खोलने पर सरकार की और से सजा का प्रावधान है।

18. अटल पेंशन योजना से जुड़ा कोई व्यक्ति यदि किसी दूसरे देश का नागरिक बनता है, तो क्या होगा?

अटल पेंशन योजना सिर्फ भारत के नागरिकों के लिए है। यदि कोई व्यक्ति किसी दूसरे देश जाता है, तो उसका खाता बंद कर दिया जाएगा और उसके जमा किये गए पैसे उसे लौटा दिए जाएंगे।

19. यदि मेरी उम्र 40 साल से ज्यादा है, तो मैं अटल पेंशन योजना से जुड़ सकता हूँ?

यदि आपकी उम्र 40 साल से ज्यादा है, तो आप अटल योजना से नहीं जुड़ सकते हैं।

अटल योजना से जुड़ने के लिए अभ्यर्थी को 40 साल से कम होना चाहिए।

20. अटल पेंशन योजना से खाता बंद कैसे कराएं?

60 साल की उम्र के बाद: 

यदि आपकी उम्र 60 साल से ज्यादा है और आप अटल पेंशन खाता बंद कराने चाहते हैं, तो आप निश्चित रूप से ऐसा कर सकते हैं।

खाता बंद करने के बाद आप आपकी जमा कराई गयी राशि वापस मिल जायेगी।

इसके अलावा व्यक्ति की मौत के दौरान उनका पेंशन खाता उनके पति/पत्नी को ट्रांसफर किया जा सकता है।

60 साल की उम्र से पहले: 

यदि आप किसी कारण से 60 साल की उम्र से पहले ही खाता बंद करना चाहते हैं, तो आप अपनी जमा की गयी राशि निकाल सकते हैं।

यदि आप किसी और के नाम खाता ट्रांसफर करना चाहते हैं, तो आप ऐसा भी कर सकते हैं।


इस लेख में हमनें अटल पेंशन योजना से सम्बंधित कई विषयों पर चर्चा की।

यदि इससे जुड़ा आपका कोई सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

13 टिप्पणी

  1. namaste sir
    main patna, bihar ka rehne wala hoon. meri monthly income 20000 rupay hai aur meri umar 38 saal hai. main har mahine 5000 rupay bachata hoon. kya retirement ke baad 5000 rupay se jyada pension mil sakti hai atal pension yojna mein? aur yadi nahi, kya main do atal pension account bana kar usme donon mein 5000 rupay ki pension paa sakta hoon? aur kya main aur meri wife donon ek-ek account bana sakte hain? kripya iska jawab batayen.

  2. I am 31 year old now how can I start atal pension account for my retirement scheme. I earn 3 lpa and working in government school. I can save almost 3500 rs monthly. so hw much can I deposit in this scheme/.

    and if I want to open two accounts for this, what’s the procedure.
    maine kahin padha tha ki do account nahi khol sakte par yadi ek account mera aur ek mere bhai ka ho, to kya ho sakta hai?

    aur baad mein dono account ko jod sakte hai kya? hamari joint family hai aur mera khata sbi account me hai.

  3. प्रिय पंकजजी। आपकी अटल पेंशन योजना की जानकारी के लिए बहुत बहुत धन्यवाद। इस से हमें काफी मदद मिली है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here