Wed. May 29th, 2024
    अखिलेश यादव

    समाजवादी पार्टी (सपा)अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में उत्तर प्रदेश में कई जगह इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में खराबी आने पर चिंता जाहिर करते हुए निर्वाचन आयोग से फौरी कार्रवाई सुनिश्चित करने की मांग की।

    अपनी उम्मीदवारी का पर्चा दाखिल करने आये अखिलेश ने संवाददाताओं से बातचीत में दूसरे चरण के मतदान के दौरान बुलंदशहर समेत कई स्थानों पर ईवीएम में खराबी के कारण मतदान बाधित होने की घटनाओं के बारे में पूछे जाने पर कहा कि उन्हें भी ऐसी जानकारी मिली है।

    उन्होंने कहा कि यह आयोग की जिम्मेदारी है कि अगर ईवीएम खराब होने की कोई सूचना मिलती है तो वह ज्यादा से ज्यादा 15 मिनट में मशीन बदले ताकि समय से मतदान पूरा हो सके।

    अखिलेश ने ईवीएम पर एक बार फिर सवाल उठाते हुए कहा कि लोग टेक्नोलॉजी पर भरोसा नहीं कर पा रहे हैं। इस बारे में आयोग और सरकार को भरेासा दिलाना चाहिये। सपा, बसपा समेत कई दल उच्चतम न्यायालय तक अपना पक्ष रख चुके हैं। सच्चाई यह है कि दुनिया में पहले जहां भी ईवीएम से मतदान होता था, वहां अब मतपत्रों का इस्तेमाल किया जाता है।

    सपा प्रमुख ने दावा किया कि पहले चरण में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के पक्ष में जिस तरह वोटों की बारिश हुई, वह आगे बढ़ रही है। सातवें चरण तक ना जाने किनती बारिश होगी।

    आजमगढ़ सीट जीतने की उम्मीद जाहिर करते हुए अखिलेश ने कहा कि साइकिल और बसपा ने मिलकर आजमगढ़ में काम किया है। गठबंधन इसे तरक्की के रास्ते पर आगे ले जाएगा। भाजपा को बताना होगा कि उन्होंने केन्द्र और उत्तर प्रदेश सरकार से क्या काम कराये हैं। उसे सात साल का हिसाब जनता को देना होगा।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *