Tue. Apr 16th, 2024

    समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर कोरोना वायरस संकट को लेकर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें अपनी “अक्षमता” को स्वीकार करना होगा और अपना पद छोड़ देना चाहिए। उत्तर प्रदेश की  भाजपा सरकार पर भड़कते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि इनके लिए केवल सत्ता और चुनाव मायने रखते है। प्रबंधन और प्रशासन उनके नियंत्रण से बहुत परे हैं।

    “मुख्यमंत्री को अपनी अक्षमता स्वीकार करनी चाहिए और अपने मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा दे देना चाहिए, इससे लोगों को राहत मिलेगी। भाजपा सरकार ने अपने चार साल के शासन में राज्य को दयनीय बना दिया है, जिसे सत्ता में रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।

    अखिलेश यादव ने कहा कि योगी सरकार को “जागने” की जरूरत है। राज्य में कोविड संकट से आसमान छूने वाले मौत के आंकड़े बेहद ही शर्मसार हैं। उन्होंने भूख और आश्रय की समस्या से जूझ रहे आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए भी चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि कम मध्यम वर्ग के लोग भोजन और पैसा नहीं बल्कि योगी सरकार के कारण नियमित रूप से मर रहे हैं, लेकिन उन्हें बचाने के लिए  कोई कुछ नहीं कर रहा है। यादव ने एक बयान में कहा। 

    अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश के ग्रामीणों में श्रमिकों की वापसी का उल्लेख करते हुए, यादव ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार उनके परीक्षण, उपचार और रोजगार की व्यवस्था करने में विफल रही  है। अखिलेश यादव के आरोपों पर पलटवार करते हुए, उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि संकट की इस घड़ी में “आधारहीन बयानबाजी” करने के बजाय, यादव को लोगों की देखभाल के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से साथ हाथ मिलाना चाहिए।

    सिंह ने कहा कि अखिलेश  यादव को जमीनी हकीकत और कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए योगी सरकार द्वारा राज्य के ग्रामीण इलाकों में किए जा रहे कामों के बारे में जानकारी प्राप्त करनी चाहिए। अखिलेश यादव को कोई भी बयान जारी करने से पहले किसी भी एक गाँव का दौरा करना चाहिए था, साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार ने गांवों में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए बड़े पैमाने पर अभियान चलाएं है।

    By दीक्षा शर्मा

    गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय, दिल्ली से LLB छात्र

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *