Mon. May 20th, 2024
    गौरी लंकेश

    भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने बैंगलोर की पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की कथित रूप से निंदा की है। प्रसाद ने इसके अलावा कहा कि जब केरल में आरएसएस सेवकों की हत्याएं होती है, तो ये उदारवादी लोग कहाँ चले जाते हैं।

    भाजपा नेता ने कहा कि गौरी लंकेश एक माओवादी लोगों के साथ काम कर रही थी। क्या राज्य सरकार ने उनको अनुमति दी थी? अगर हाँ, तो उन्हें सुरक्षा क्यों नहीं दी गयी? कर्णाटक सरकार से इतनी बड़ी गलती क्यों हुई?

    दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत के दौरान प्रसाद ने कहा कि गौरी की मौत पर जो हंगामा हुआ है, वह आरएसएस के सेवकों की हत्या पर क्यों नहीं होता? ये उदारवादी लोग उस समय कहाँ चले जाते हैं?

    जाहिर है बैंगलोर में इसी सप्ताह एक वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी। इसके बाद मीडिया और सरकार में हंगामा खड़ा हो गया है। जहाँ देशभर में मीडिया इस घटना से अपनी सुरक्षा को लेकर सवाल उठा रही है, वहीँ कांग्रेस ने जमकर भाजपा और आरएसएस पर निशाना साधा है।

    कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने कहा था, ‘जब भी कोई भाजपा या आरएसएस पर सवाल उठाता है, तब उसपर हमला किया जाता है और उसे मार दिया जाता है।’

    इसके अलावा राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने इस मामले की जांच के लिए एक विशेष टीम का गठन किया है। सिद्धारमैया ने कहा है कि बहुत जल्द पुलिस आरोपियों को पकड़ लेगी।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।