दा इंडियन वायर » समाचार » शनाया कपूर: सहायक निर्देशक बनने के बाद, मुझे पता चला कि फिल्म कैसे बनती है
मनोरंजन समाचार

शनाया कपूर: सहायक निर्देशक बनने के बाद, मुझे पता चला कि फिल्म कैसे बनती है

शनाया कपूर: सहायक निर्देशक बनने के बाद, मुझे पता चला कि फिल्म कैसे बनती है

अभिनेता संजय कपूर और महीप की बेटी शनाया कपूर ने पेरिस में ले बाल के साथ अपनी शुरुआत की थी और अब वह एक अभिनेत्री के रूप में बॉलीवुड में लॉन्च होने का बेसब्री से इंतजार कर रही हैं। वह कहती है कि अगर “सबसे अद्भुत निर्देशक” करण जौहर कभी उन्हें निर्देशित करेंगे, तो वह भावुक हो जाएगी और “बस मर जाएगी”।

करण बॉलीवुड में कई नए चेहरों को लेकर आए हैं। उनमें आलिया भट्ट, वरुण धवन और शनाया की कजिन जान्हवी कपूर शामिल हैं।

View this post on Instagram

My debutant #LeBal ❤️

A post shared by Sanjay Kapoor (@sanjaykapoor2500) on

यह पूछे जाने पर कि क्या वह करण द्वारा एक अभिनेत्री के रूप में लॉन्च होना चाहेंगी, शनाया ने उत्साह के साथ आईएएनएस को बताया, “मेरा मतलब है, हाँ! मुझे नहीं लगता कि कोई भी अभिनेता ‘ना’ कहेगा। वह परिवार हैं। वह प्रतिभाशाली और सबसे शानदार निर्देशक है। मुझे लगता है कि अगर करण ने मुझे कभी निर्देशित किया तो मैं रोना शुरू कर दूंगी। मैं भावुक हो जाउंगी और बस मर जाउंगी।”

अगर वह अभिनय नहीं कर रही, तो 20 वर्षीय स्टार-किड करण की फिल्म में जरूर काम कर रही हैं। उनके द्वारा निर्मित फिल्म “गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल” में शनाया को सहायक निर्देशक बनने का मौका मिला है।

View this post on Instagram

❤️

A post shared by Sanjay Kapoor (@sanjaykapoor2500) on

शनाया ने याद किया-“जैसे ही मेरा स्कूल पूरा हुआ, मेरे मॉम और डैड ने मुझे एलए या न्यूयॉर्क जाने और एक कोर्स करने के लिए कहा।” लेकिन उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में आना था। उनके मुताबिक, “आपको जो सबसे अच्छी शिक्षा मिलती है, वह फिल्म सेट पर होती है। करण हमेशा से वहां रहे हैं।”

About the author

साक्षी बंसल

पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Advertisement