Tue. Apr 23rd, 2024
    गुजरात में नरेंद्र मोदी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समय दो दिन के वाराणसी के दौरे पर हैं। छेत्र में मोदी ने कई विकास कार्यों का शिलान्यास करते हुए कहा कि काशी में पर्यटन को बढ़ाव देना होगा जिससे आगे चलकर यह उत्तर भारत का आर्थिक केंद्र बन सके।

    वाराणसी नरेंद्र मोदी के लिए कई मायनों में महत्वपूर्ण है। सबसे बड़ी बात तो यह प्रधानमंत्री का चुनावी छेत्र है। 2014 के लोक सभा चुनावों के दौरान नरेंद्र मोदी ने वाराणसी से चुनाव लड़ते हुए करीबन साढ़े तीन लाख वोटों से जीत हासिल की थी। इससे पहले भी इस सीट पर लगातार बीजेपी का बोलबाला रहा है। मोदी से पहले उनकी ही पार्टी के नेता मुरली मनोहर जोशी ने 2009 के चुनावों में यहाँ बड़ी जीत हासिल की थी।

    2017 में उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद यह नरेंद्र मोदी का पहला छेत्रिय दौरा है। मोदी का सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुद हवाई अड्डे पर स्वागत किया था। अपने दौरे के पहले दिन मोदी ने शहर के कई विकास कार्यों का उद्घाटन किया। इसके अलावा कई नयी परियोजनाओं की नीव रखी।

    प्रधानमंत्री के दौरे के पहले दिन की सबसे बड़ी विशेषता उनके द्वारा महामाना एक्सप्रेस का उद्घाटन रहा। यह रेल मोदी के गढ़ कहे जाने वाले गुजरात के औद्योगिक शहर सूरत और वड़ोदरा को वाराणसी से जोड़ेगा। मोदी के लिए यह परियोजना खासी अहम् बताई जा रही थी।

    इसके बाद मोदी ने आरएसएस के महान प्रचारक दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर बने दीनदयाल हस्तकला संकुल का दौरा किया। यहाँ नरेंद्र मोदी ने देश की अर्थव्यवस्था में हस्त कलाकारों और बुनकरों की भूमिका का बखान किया। अपने भाषण में मोदी ने कहा कि देश के हस्त कलाकारों को मजबूत करने की बहुत जरूरत है।

    इसके अलावा मोदी इस दौरे के दौरान रामनगर-सामने बांध के अलावा लगभग 17 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। प्रदेश में छोटे स्तर पर बैंकिंग स्तर को मजबूत करने के लिए अहम् योजना उत्कर्ष बैंक का भी उद्घाटन किया जाएगा।

    नरेंद्र मोदी ने शहर के विकास पर जोर देते हुए कहा कि काशी में जितना काम पिछले 6 महीनों में हुआ है, उतना पिछले कई सालों में नहीं हुआ। मोदी ने सपा और बसपा सरकारों पर तंज कस्ते हुए कहा कि, ‘हमारी सरकार ने वे कार्य कर दिखाए हैं, जो पिछली सरकारें 25 सालों में नहीं कर पायी हैं। हमारा उद्देश्य छेत्र में विकास कार्यों को बढ़ावा देकर गरीबी हटाना है।’ मोदी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भी तारीफ़ करते हुए उन्हें छेत्र के विकास कार्यों पर बधाई दी।

    नरेंद्र मोदी ने काशी को देश का अगला आर्थिक केंद्र बनाने पर भी जोर दिया। अपने भाषण में मोदी ने कहा कि शहर के पर्यटक कर्मचारियों को विदेशी पयटकों को शहर के नए विकास कार्यों और सांप्रदायिक धरोहरों की सैर करना चाहिए। मोदी ने कहा कि यह शहर के पर्यटन को बढ़ावा देगा। इन सब कार्यों से काशी को उत्तर भारत का अगला आर्थिक केंद्र बनाने में मदद मिलेगी।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।