दा इंडियन वायर » समाचार » रेलवे भर्ती बोर्ड ने करीब 90000 पदों के लिए दो साल तक ऊपरी आयु सीमा बढ़ाई
समाचार

रेलवे भर्ती बोर्ड ने करीब 90000 पदों के लिए दो साल तक ऊपरी आयु सीमा बढ़ाई

रेलवे जॉब
बिहार और केरल में विरोध प्रदर्शन के बाद सोमवार को रेलवे ने विभिन्न श्रेणियों में अभ्यर्थियों को ऊपरी आयु सीमा में छूट प्रदान की है।

भारतीय रेलवे भर्ती बोर्ड ने छात्रों के विरोध प्रदर्शनों को देखते हुए दो साल तक आयु सीमा बढाने की मांग को स्वीकार कर लिया है। बिहार और केरल में विरोध प्रदर्शन के बाद सोमवार को रेलवे ने विभिन्न श्रेणियों में अभ्यर्थियों को ऊपरी आयु सीमा में छूट प्रदान की है। साथ ही ऐलान किया कि बांग्ला और मलयालम सहित क्षेत्रीय भाषाओं में भी भर्ती परीक्षा कराए जाने का विकल्प दिया जाएगा।

रेलवे ने अपने बयान में कहा कि सहायक लोको पायलट और लोको पायलट की परीक्षा के लिए अनारक्षित श्रेणी में संशोधित ऊपरी आयु सीमा पहले 28 साल तय की गई थी लेकिन अब इसे दो साल बढ़ाकर 30 साल किया जा रहा है। वहीं ओबीसी के लिए 31 से 33 साल की उम्र सीमा बढ़ाई है। अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति श्रेणी के लिए आयु सीमा को 33 से बढ़ाकर 35 साल किया गया है।

इसी तरह, अनारक्षित श्रेणी के समूह डी परीक्षा के लिए 28 साल से बढाकर 30 साल ऊपरी आयु सीमा तय की गई है। ओबीसी में इसे 34 से 36 साल किया गया है। वहीं अनुसूचित जाति व जनजातियों के लिए आयु सीमा को 36 साल से बढ़ाकर 38 साल किया गया है। कुल मिलाकर सभी में दो साल तक ऊपरी आयु सीमा को बढ़ाया गया है।

गौरतलब है कि रेलवे विभाग ने 3 फरवरी को करीब 90 हजार वैकेंसी निकाली थी। बोर्ड अब आवेदन करने की तारीख भी बढ़ाने पर विचार कर रहा है। ग्रुप सी लेवल वन के पदों पर आवेदन करने वाले उम्मीदवारों का 10वीं पास होना जरूरी है।

साथ ही उम्मीदवारों का आईटीआई किया होना जरूरी है। वही लेवल टू के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों का 10वीं पास होने के साथ साथ आईटीआई, डिप्लोमा और इंजीनियरिंग किया होना भी जरूरी है।




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!