Thu. Jun 13th, 2024
    रिलायंस जिओ

    भारतीय दूरसंचार जगत में मुकेश अम्बानी की कंपनी रिलायंस जिओ लगातार नए मुकाम हासिल कर रही है। तजा सर्वे के अनुसार पिछले सिर्फ एक महीने में जिओ के साथ 40 लाख नए ग्राहक जुड़ चुके हैं।

    अगर अन्य कंपनियों की बात करें तो उनके ग्राहक संख्या में लगातार कमी आ रही है। एयरटेल को एक महीने में दो लाख ग्राहक छोड़ चुके हैं। वोडाफोन और आईडिया को सबसे ज्यादा घाटा हुआ है जिनके ग्राहकों में क्रमशः 24 लाख और 29 लाख की कमी हुई है।

    भारत में यदि रिलायंस जिओ के कुल मार्किट शेयर की बात करें तो यह मई में 9.94 फीसदी से बढ़कर अगस्त में 11.19 फीसदी पहुँच गया है। इन आंकड़ों से साफ़ है कि आने वाले कुछ समय तक जिओ के ग्राहक बढ़ते ही रहेंगे।

    यदि अन्य कंपनियों के मार्किट शेयर की बात करें, तो 23.7 फीसदी ग्राहकों के साथ एयरटेल पहले नंबर पर है। 17.55 फीसदी ग्राहकों के साथ वोडाफोन दूसरे क्रम पर है। इसके अलावा आईडिया तीसरे क्रम पर हैं जिसके पास 16.11 फीसदी ग्राहक हैं।

    एयरटेल के इस समय पुरे भारत में करीबन 28 करोड़ ग्राहक हैं। लेकिन यदि जिओ की ओर देखें, तो जिओ ने सिर्फ एक साल में 13 करोड़ ग्राहक जुटा लिए हैं। ऐसे में यदि जिओ इसी गति से ग्राहकों को अपने से जोड़ता रहा, तो आने वाले समय में यह एयरटेल को पीछे छोड़ देगा।

    जिओ इस समय बड़ी तेजी से विकास कर रहा है। कंपनी ने हाल ही में नए डेटा प्लान्स निकालें हैं, जिसके बाद फिर से बाजार में जिओ का नाम चर्चा में है।

    इसके अलावा कंपनी ने अमेज़न पे के साथ साझेदारी करके ग्राहकों को डेटा प्लान्स पर आकर्षित ऑफर भी दे रही है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।