Wed. Nov 30th, 2022
    हूथी विद्रोही

    यमन की सीमा के नजदीक सऊदी अरब में दक्षिण पश्चिमी शहर में स्थित एयरपोर्ट को हूथी विद्रोहियों ने ड्रोन से निशाना बनाया था। ईरानी समर्थित चरमपंथियों ने मंगलवार को सुबह यह जानकारी दी थी। हूथी की अल मसिरह सैटेलाइट न्यूज़ चैनल ने बताया कि हूथी विद्रोहियों ने नजरान शहर में स्थित हवाई अड्डे को कैसेफ़-2के ड्रोन से निशाना बनाया था और एयरपोर्ट के अंदर मौजूद हथियार गोदाम पर हमला किया था।

    गल्फ न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक, ड्रोन हमले में जख्मी लोगो की संख्या जारी करना अभी शेष है। सऊदी की अध्यक्षता वाले गठबंधन के प्रवक्ता कर्नल तुर्की अल मलिकी ने कहा कि “ऐसे हमलो से बचने के लिए मज़बूत रक्षा वहां मौजूद है और हूथी विद्रोहियों को ईरान के आतंकी चरमपंथी करार दिया था।”

    बीते हफ्ते हूथी विद्रोहियों ने सऊदी अरब की तेल पाइपलाइन पर ड्रोन से हमला किया था। इसके बाद रियाद ने एक तेल पाइपलाइन को बंद कर दिया था। अमेरिका और ईरान के बीच तनाव चरम पर है। न्यूयॉर्क टाइम्स ने बीते वर्ष की रिपोर्ट के मुताबिक, नजरान में स्थित अमेरिकी ख़ुफ़िया विश्लेषक सऊदी के गठबंधन को यमन में हूथियों के खिलाफ हवाई हमले में मदद करता है।

    सऊदी अरब ने तेल पाइपलाइन पर ड्रोन हमले का ठिकड़ा ईरान के सर पर फोड़ा था और कहा कि यह निशाना तेल सप्लाई की सुरक्षा और वैश्विक अर्थव्यवस्था पर था। हूथी विद्रोहियों के जिम्मेदारी लेने के बाद सऊदी गठबंधन ने यमन मे चरमपंथियों के ठिकानों को निशाना बनाया था।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *