Sun. Apr 21st, 2024
विश्व बैंक भारत अर्थव्यवस्था

भारत में पिछले कुछ समय से गिरती अर्थव्यवस्था का विषय चर्चा में है। विपक्ष लगातार मोदी सरकार को नोटबंदी और जीएसटी जैसे फैसलों पर घेरता रहा है। इस विषय में हालाँकि विश्व बैंक ने मोदी सरकार की तारीफ़ करते हुए इसे लंम्बे समय के लिए देश के हित में बताया है।

विश्व बैंक के मुख्य अधिकारी ने कहा, ‘वर्तमान में भारतीय अर्थव्यवस्था की धीमी गति अस्थायी है और इसका कारण जीएसटी के लिए की गयी तैयारियां है।’ विश्व बैंक के मुताबिक मोदी सरकार द्वारा लागु किया गया जीएसटी बिल लम्बे समय में भारतीय अर्थव्यवस्था के हित में साबित होगा।

नरेंद्र मोदी के प्रयासों की तारीफ़ करते हुए विश्व बैंक के अधिकारी जिम योंग ने कहा, ‘हम लगातार नरेंद्र मोदी के प्रयासों पर नज़र रखे हुए हैं। उन्होंने देश के व्यापारिक वातावरण को सुधरने के लिए जो फैसले लिए हैं, वे लम्बे समय में देश के हित में साबित होंगे।’ इसके अलावा जीएसटी मुद्दे पर कहा गया कि इसके दुष्प्रभाव अस्थायी हैं और बहुत जल्द इसके अच्छे प्रभाव देखने को मिलेंगे।

जाहिर है इस वित्तीय वर्ष की पहली तो तिमाही के दौरान देश की अर्थव्यवस्था की विकास दर काफी धीमी रही है। जहाँ पिछले साल इस तिमाही में विकास दर 7.9 प्रतिशत थी, वहीँ इस साल पहली दो तिमाही में यह घटकर क्रमशः 6.1 प्रतिशत और 5.7 प्रतिशत रह गयी है।

इसके अलावा जिम योंग से जब भारत से जुड़ा एक और सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मुझे पता है कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में व्यापर करने के नए अवसर खोजने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन इस दौरान भारत में कई समस्याएं भी हैं। हमने भारत में शिक्षा, स्वास्थ्य आदि से समबन्धित कई शोध की जांच की है और हमें लगता है कि भारत में और विकास होने की सम्भावना है।’

उन्होंने भारत में चल रहे स्वच्छ भारत अभियान और मेक इन इंडिया योजना की भी तारीफ़ की।

इस विषय में विपक्षी नेताओं ने मोदी सरकार को निशाना बनाते हुए उनके द्वारा लिए गए नोटबंदी और जीएसटी के फैसलों को अर्थहीन बताया है। हाल ही में वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने कई मौकों पर मोदी सरकार की आलोचना की थी। उन्होंने जीएसटी के फैसले को जल्दबाजी में लिया गया फैसला बताया था। इसके अलावा नोटबंदी के फैसले पर उन्होंने कहा था कि इसका कोई असर नहीं हुआ है।

नरेंद्र मोदी ने हाल ही में इस विषय पर अपनी सफाई दी थी। उन्होंने कहा था कि जीएसटी लम्बे समय में देश के हित में साबित होगा। इसके अलावा यशवंत सिन्हा और अन्य लोगों को निशाना बनाते हुए मोदी ने कहा था ‘कि कुछ लोगों का काम ही आलोचना करना होता है। ऐसे में उन्हें इससे कोई असर नहीं पड़ता है।’

 

By पंकज सिंह चौहान

पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।