Fri. Jun 14th, 2024
    mahesh bhatt

    मुंबई, 15 मई (आईएएनएस)| फिल्मकार महेश भट्ट ने महान बांग्ला समाज सुधारक ईश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति को तोड़े जाने की कड़ी निंदा की है। कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा में मूर्ति को तोड़ा गया था।

    भट्ट ने ट्वीट किया, “पंडित विद्यासागर पर आक्रमण, बांग्ला भाषा पर आक्रमण है। उन्होंने बोर्नो पोरिचय के माध्यम से पढ़ने के लिए बांग्ला भाषा को सरल बनाया था।”

    उत्तरी कोलकाता में मंगलवार की शाम अमित शाह के विशाल रोड शो में भाग लेने वाले भाजपा समर्थकों और तृणमूल कांग्रेस की छात्र इकाई सदस्यों के बीच झड़प हुई जिसके बाद भगवा पार्टी के कार्यकताओं के एक समूह ने कथित तौर पर विद्यासागर कॉलेज परिसर के अंदर तोड़फोड़ की और विद्यासागर की प्रतिमा को आघात पहुंचाया।

    बंगाल के पुनर्जागरण में ईश्वरचंद्र विद्यासागर की भूमिका अहम थी। वह एक दार्शनिक, शिक्षक, लेखक, अनुवादक, प्रकाशक, उद्यमी, सुधारक और परोपकारी व्यक्ति थे।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *