Wed. Feb 28th, 2024
    एलएसी चीन भारत सेना

    भारत व चीन के बीच मे सीमा विवाद आए दिन होता है। चीन से सटी भारतीय सीमा में अब जल्द ही 17 नई सुरंग बनाए जाने की योजना है। चीन के पास वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ चीनी सैन्य उपस्थिति का मुकाबला करने के लिए लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश के बीच में सुरंग बनाई जाएगी।

    जानकारी के अनुसार सेना ने यह प्रस्ताव पहले ही रक्षा मंत्रालय को भेज रखा है। इस प्रस्ताव में एलएसी के साथ विभिन्न क्षेत्रों में नौ उच्च प्राथमिकता वाले सुरंगों को शामिल किए जाने की योजना भी है। दरअसल भारत व चीन के बीच में आए दिन एलएसी पर विवाद की खबरे आती रहती है।

    दोनों देशों के बीच में लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश को लेकर विवाद चल रहा है। जिसके चलते दोनों देशों की सीमा के पास एलएसी बना रखी है।

    लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश से गुजरेगी सुरंग

    इस सीमा के पास चीनी सैनिकों की उपस्थिति दिनों-दिन बढ़ रही है। जिसके चलते भारतीय सेना लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश के बीच कई सुरंगों को बनाने की योजना बना रही है ताकि सैनिकों की तैनाती जल्दी से हो सके।

    सेना ने सुरंग संबंधित प्रस्ताव रक्षा मंत्रालय को भी भेज दिया है। 17 सुरंगों में से करीब 9 सुरंगों को उच्च प्राथमिकता वाले सुरंग की तरह बनाया जाएगा। इन सुरंगों का निर्माण होने से सैनिकों का एक जगह से दूसरे जगह पर स्थानांतरण व तैनाती आसानी से की जा सकेगी।

    हाल ही में भारत की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने अरूणाचल प्रदेश का दौरा किया था। जानकारी के अनुसार भारतीय सेना ने रक्षा मंत्री के समक्ष भी विशेष सुरंग बनाने पर चर्चा की थी।

    सुरंगों के निर्माण के लिए सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने अरूणाचल प्रदेश की सरकार से जमीन हासिल करना भी शुरू कर दिया है और संभावना है कि सुरंग निर्माण का काम जल्द ही पूरा हो जाए।