Fri. Apr 19th, 2024
    भारत पाकिस्तान अमेरिका

    भारत व अमेरिका के बीच गहरे रिश्ते व मजबूत संबंध को देखकर पाकिस्तान को चिंता होने लगी है। अब भारत व अमेरिका की दोस्ती को देखकर पाकिस्तान ने मांग की है कि उसके साथ भी समान स्तर का व्यवहार अपनाया जाना चाहिए।

    पाकिस्तान की विदेश सचिव तहमीना जांजुआ ने शुक्रवार को विदेश मामलों पर सीनेट की स्थायी समिति को संबोधित करते हुए ये बात कही। अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस की अघोषित अफगानिस्तान यात्रा पर जाने व उनके द्वारा पाकिस्तान पर की जाने वाली टिप्पणी पर तहमीना जांजुआ ने गहरी चिंता व्यक्त की है।

    पाक विदेश सचिव तहमीना जांजुआ ने कहा कि अमेरिका को पाकिस्तान की चिंताओं को ध्यान में रखना चाहिए। साथ ही अमेरिका से इस्लामाबाद व नई दिल्ली के साथ समान स्तर पर व्यवहार करने का आग्रह किया है।

    अमेरिका को किसी एक देश के प्रति अधिक झुकाव नहीं होकर दोनों देशों के प्रति समान व्यवहार अपनाना चाहिए। इसके अलावा एक बार फिर पाकिस्तान ने कहा कि वो भारत के साथ सभी मुद्दों का हल वार्ता के माध्यम से करना चाहता है।

    माइक पेंस ने साधा था पाकिस्तान पर निशाना

    पाक विदेश सचिव जांजुआ का ये बयान तब आया है जब अमेरिका के उपराष्ट्रपति ने अफगानिस्तान से पाकिस्तान पर निशाना साधा था। अफगानिस्तान में बगराम एयरबेस पर पहुंचे माइक पेंस ने अमेरिकी सैनिकों को संबोधित करते हुए कहा कि बहुत लंबे समय तक पाकिस्तान ने तालिबान व कई आतंकवादी संगठनों को सुरक्षित ठिकाने उपलब्ध करवाए है लेकिन अब उसका समय खत्म हो चुका है। इस्लामाबाद अब अमेरिका की नजर व नोटिस में है।

    माइक पेंस की बिना बताए अचानक से अफगानिस्तान यात्रा व पाकिस्तान पर आतंकवाद को लेकर दिए बयान के बाद विदेश सचिव तहमीना जांजुआ का बयान आया है। अमेरिका ने पाकिस्तान के ऊपर आतंकवाद को समर्थन देने का कई बार आरोप लगाया है।

    वहीं अमेरिका ने हाल ही में अपनी नई राष्ट्रीय सुरक्षा नीति में भी भारत को महत्वपूर्ण स्थान दिया था। अमेरिका शुरूआत से ही पाकिस्तान की अपेक्षा भारत को अधिक तवज्जो देता है।