रविवार, फ़रवरी 23, 2020

भारतीय टीम में वापसी को लेकर आस्वस्त है सुरेश रैना

Must Read

निर्भया मामला: आरोपी विनय नें खुद को चोट पहुंचाने की की कोशिश, इलाज के लिए माँगा समय

2012 में दिल्ली में हुए निर्भया मामले (Nirbhaya Case) में चार आरोपियों में से एक विनय नें आज जेल...

गुजरात सीएम विजय रूपानी ने डोनाल्ड ट्रम्प-मोदी रोड शो की तैयारी की की समीक्षा

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी (Vijay Rupani) ने गुरुवार को अहमदाबाद में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) और...

डोनाल्ड ट्रम्प की अहमदाबाद की 3 घंटे की यात्रा के लिए 80 करोड़ रुपये खर्च करेगी गुजरात सरकार: रिपोर्ट

समाचार एजेंसी रायटर ने बुधवार को सूचना दी कि अहमदाबाद में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की...

भारत के दिग्गज बल्लेबाज़ सुरेश रैना का कहना है कि चाहें आज ना सही लेकिन कल, चलो माना कल ना सही मगर परसों, परसों भी ना सही लेकिन लेकिन 10 महीने बाद ही सही मगर खिलाना तो पड़ेगा चयनकर्ताओं को मुझे। वह कहते है ना “बिना कुछ करें जय जयकार नहीं होती और कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती”, और कुछ ऐसा ही मानना है भारत के मध्यक्रम के स्टार बल्लेबाज़ सुरेश रैना का। रैना का कहना है कि “माना कुछ समय से मेरा बल्ला और किस्मत मेरा साथ नहीं दे रही है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि मैं हार मान जाऊंगा”, और वह कहते है ना “किस्मत के भरोसे रहने वालों को केवल उतना ही प्राप्त हो पाता है जितना मेहनत करने वाले छोड़ देते है”।

आपको बता दें कि हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी के लिए जाने जाने वाले सुरेश रैना ने कहा कि “भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए और भारत की ओर से खेलने के लिए आपको अपना प्रदर्शन बहुत ही उच्च स्तरीय रखना होता है क्यूंकि यदि 11 लोग पूरे देश में से चुने गए हैं भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए, तो उनमे वैसी कोई बात भी होनी चाहिए जो उन्हें सबसे अलग बनाए”। दरसअल, काफी समय से भारतीय टीम से बाहर चल रहे सुरेश रैना ने कहा कि “मुझे अपनी वापसी का जुनून युवराज सिंह और आशीष नेहरा को देखकर मिला है, अगर आप किसी भी स्टेज पर अच्छा करते हैं तो चयनकर्ता आपको ज्यादा दिनों तक नज़र अंदाज नहीं कर सकते हैं”।

इस साल सुरेश रैना ने घरेलू क्रिकेट में काफी अच्छा प्रदर्शन किया हैं जिससे उम्मीद जताई जा रही हैं कि उन्हें श्रीलंका और भारत के बीच होने वाली टी-20 श्रृंखला में जगह मिल सकती हैं। परन्तु प्रश्न यह हैं कि अगर सुरेश रैना टीम में आते हैं तो बाहर कौन जएगा। जिस प्रकार हार्दिक पंड्या, मनीष पांडे और केदार जाधव ने खेल दिखाया हैं उससे लगता नहीं है कि चयनकर्ता उन्हें बाहर करने की सोचेंगे।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

निर्भया मामला: आरोपी विनय नें खुद को चोट पहुंचाने की की कोशिश, इलाज के लिए माँगा समय

2012 में दिल्ली में हुए निर्भया मामले (Nirbhaya Case) में चार आरोपियों में से एक विनय नें आज जेल...

गुजरात सीएम विजय रूपानी ने डोनाल्ड ट्रम्प-मोदी रोड शो की तैयारी की की समीक्षा

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी (Vijay Rupani) ने गुरुवार को अहमदाबाद में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)...

डोनाल्ड ट्रम्प की अहमदाबाद की 3 घंटे की यात्रा के लिए 80 करोड़ रुपये खर्च करेगी गुजरात सरकार: रिपोर्ट

समाचार एजेंसी रायटर ने बुधवार को सूचना दी कि अहमदाबाद में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की आगामी यात्रा की तैयारियों पर...

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही तैयारी भारतीयों की "गुलाम मानसिकता"...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -