Sat. Feb 4th, 2023
    भारतीय मूल ब्रिटिश मंत्री

    ब्रिटेन में भारतीय मूल की मंत्री प्रीति पटेल को आखिरकार पद से इस्तीफा देना पड़ गया। इजरायल यात्रा के बाद विवाद होने के चलते प्रीति पटेल पर विपक्षी दलों की तरफ से काफी दबाव बनाया गया जिसके चलते ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा से मुलाकात के बाद प्रीति ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया।

    वे अभी इंटरनेशनल डवलपमेंट मंत्री के पद पर कार्यरत थी। इस्तीफे के बाद प्रीति पटेल का राजनीतिक भविष्य अंधकार में है। प्रीति पटेल की निजी यात्रा के दौरान इजरायल के अधिकारियों से मुलाकात की ब्रिटेन में काफी आलोचना की जा रही थी।

    भारतीय मूल की प्रीति पटेल का परिचय

    45 वर्षीय प्रीति पटेल ब्रिटेन में कंजरवेटिव पार्टी की कद्दावर नेता मानी जाती है। वर्तमान में प्रीति ब्रिटेन सरकार में इंटरनेशनल डवलपमेंट मंत्री के पद पर कार्यरत थी। इस दौरान प्रीति ब्रिटेन की तरफ से विकासशील देशों को दी जा रही आर्थिक मदद का कार्य देखती थी।

    प्रीति भारतीय मूल की ब्रिटेन में दिग्गज राजनेता मानी जाती है। ये साल 2010 में सांसद चुनी गई थी। साल 2014 में ट्रेजरी मंत्री बनने के बाद 2015 के आम चुनावों में प्रीति पटेल को रोजगार मंत्री का पद भी दिया गया।

    इन्होंने उच्च शिक्षा कील और एसेक्स यूनिवर्सिटी से हासिल की है। इसके अलावा प्रीति 1995 से 1997 तक सर जेम्स गोल्डस्मिथ के नेतृत्व वाली रेफरेंडम पार्टी की प्रवक्ता भी रही है। रेफरेंडम पार्टी ब्रिटेन की यूरोपीय संघ विरोधी पार्टी थी।

    क्या है विवाद की असली जड़

    दरअसल प्रीति पटेल ने अगस्त में निजी छुट्टियों पर जाने का निर्णय किया। वह इजरायल यात्रा पर निजी छुट्टियां मनाने गई। इस दौरान प्रीति पटेल ने इजरायली अधिकारियों के साथ ही वहां पर कई बड़े राजनेता व व्यापारियों के साथ गुप्त मुलाकात की।

    इस मुलाकात की जानकारी प्रीति पटेल ने वहां पर नियुक्त राजदूत या ब्रिटेन सरकार को नहीं दी। जबकि नियम है कि ब्रिटेन सरकार के मंत्रियों को विदेशों में अपनी गतिविधियों के बारे में सरकार को जानकारी देनी होती है। प्रीति पटेल ने अपनी मुलाकातों की जानकारी किसी को भी नहीं दी। इसलिए ही वह विपक्ष के निशाने पर आ गई।

    विपक्ष लेबर पार्टी ने मांग की थी कि प्रीति पटेल की जांच होनी चाहिए या उन्हें इस्तीफ़ा दे देना चाहिए। लेबर पार्टी ने उन पर नियमों के उल्लंघन के आरोप भी लगाए थे। बाद में प्रधानमंत्री थेरेसा से मुलाकात के बाद प्रीति पटेल ने अपने इस्तीफे की घोषणा की।