मंगलवार, जनवरी 21, 2020

बिटकॉइन में 13 लाख पहुंचनें के बाद दिखी गिरावट, निवेशकों को सतर्क रहने की जरूरत

Must Read

जल संरक्षण का महत्व

जल संरक्षण क्यों जरूरी है? स्वच्छ, ताजा पानी एक सीमित संसाधन है। दुनिया में हो रहे सभी गंभीर सूखे के...

भारत में रियलमी करेगा स्नैपड्रैगन की 720जी चिप के साथ फोन लॉन्च

चीन की स्मार्टफोन निर्माता रियलमी के सीईओ माधव शेठ ने मंगलवार को भारत में नए स्नैपड्रैगन 720जी एसओजी (सिस्टम-ऑन-चिप)...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

बिटकॉइन की कीमत आज 13 लाख रूपए यानी करीबन 20,000 डॉलर के पार पहुँच गयी थी। इसके तुरंत बाद हालाँकि इसमें करीबन 10 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। इसका कारण निवशकों के अनुसार मुनाफा वसूली है। यानी कीमत बढ़ने के बाद निवेशक इसे तेजी से बेच रहे हैं, जिसका परिणाम इसकी कीमत पर दिख रहा है।

आपको बता दें कि सिर्फ साल 2017 में बिटकॉइन की कीमत करीबन 20 गुना से ज्यादा बढ़ गयी है। सिर्फ इसी महीनें में बिटकॉइन की कीमत करीबन 50 फीसदी से ज्यादा तक बढ़ गयी है। इस दौरान कई बार बिटकॉइन की कीमत में बड़े उतार-चढ़ाव देखने को मिले हैं। उदाहरण के तौर पर पिछले महीने ही बिटकॉइन में 20 फीसदी की वृद्धि के बाद करीबन 25 फीसदी की गिरावट देखी गयी थी।

बिटकॉइन की इस तेजी से बढती कीमतों को जहाँ कई विशेषज्ञ खतरा मान रहे हैं, वहीँ बड़ी संख्या में लोग इसे खरीदने की सलाह दे रहे हैं। कई निवेशको नें इसमें निवेश करने की सलाह दी है।

बिटकॉइन और अन्य डिजिटल मुद्राओं के विशेषज्ञ रोनी मोस का कहना है कि बिटकॉइन में वृद्धि जारी रहेगी और उन्होंने भविष्यवाणी की है कि इसकी कीमत 2-3 करोड़ रूपए तक पहुँच सकती है।

अमेरिका में स्थिति एक निवेश कंपनी चलाने वाले रोनी मोस के मुताबिक, “मैंने जुलाई में जब से बिटकॉइन की वृद्धि की बात कही थी, तब से अब तक बिटकॉइन 500 फीसदी बढ़ चुका है। मुझे लगता है कि यहाँ से 500 फीसदी वृद्धि और जल्द ही हो सकती है।”

साल 2017 के मध्य में जब बिटकॉइन की कीमत 2600 डॉलर के पास थी, तब मोस नें इसके 5000 डॉलर से ऊपर जाने की भविष्यवाणी की थी। इसके बाद से यह करीबन 20000 डॉलर तक पहुँच गयी है। अब हालाँकि मोस इसपर बड़ी भविष्यवाणी कर रहे हैं। उनका कहना है कि बिटकॉइन की कीमत 300,000-400,000 डॉलर यानी करीबन 2 करोड़ रूपए तक भी पहुँच सकती है।

उन्होंने आगे बताया, “मुझे यह नहीं पता कि जमीन में कितना सोना है, लेकिन मुझे यह पता है कि बिटकॉइन कितनी है। आने वाले समय में सिर्फ कुछ मिलियन बिटकॉइन ही बचेंगी और करीबन 300 मिलियन लोग इसे खरीदने की कोशिश करेंगे।” मोस की मानें तो बहुत जल्द बिटकॉइन विश्व में सबसे महंगी मुद्रा बन जायेगी।

जाहिर है हाल ही में अमेरिका की एक कंपनी नें बिटकॉइन का सार्वजानिक रूप से व्यापार शुरू किया था। इसके बाद से सिर्फ कुछ दिनों में ही बिटकॉइन की कीमत में करीबन 50 फीसदी की वृद्धि देखी गयी है।

बिटकॉइन की कीमत में इतनी ज्यादा वृद्धि की भविष्यवाणी करते हुए मोस ने कहा कि जाहिर है इस समय दुनिया में सिर्फ 21 मिलियन बिटकॉइन है। इसको खरीदने वाले लोगों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। जैसे-जैसे इसकी डिमांड बढ़ेगी, इसकी कीमत भी बढती जायेगी।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

जल संरक्षण का महत्व

जल संरक्षण क्यों जरूरी है? स्वच्छ, ताजा पानी एक सीमित संसाधन है। दुनिया में हो रहे सभी गंभीर सूखे के...

भारत में रियलमी करेगा स्नैपड्रैगन की 720जी चिप के साथ फोन लॉन्च

चीन की स्मार्टफोन निर्माता रियलमी के सीईओ माधव शेठ ने मंगलवार को भारत में नए स्नैपड्रैगन 720जी एसओजी (सिस्टम-ऑन-चिप) के साथ स्मार्टफोन लॉन्च करने...

झारखंड : नई सरकार के शपथ ग्रहण के 24 दिनों बाद भी नहीं हुआ मंत्रिमंडल विस्तार, गैरों के साथ अपने भी कस रहे तंज!

झारखंड में नई सरकार का शपथ ग्रहण 29 दिसंबर को हुआ था। अबतक 24 दिन बीत चुके हैं, लेकिन अभी भी मंत्रिमंडल का विस्तार...

त्रिपुरा, मणिपुर और मेघालय ने मनाया 48 वां राज्य दिवस

त्रिपुरा, मणिपुर और मेघालय ने मंगलवार को अलग-अलग अपना 48वां राज्य दिवस मनाया। इस मौके पर कई रंगा-रंग कार्यक्रम पेश किए गए। राष्ट्रपति रामनाथ...

महाराष्ट्र : भाजपा ने राकांपा के मंत्री के बयान पर आपत्ति जताई, बताया हिंदू विरोधी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता और महाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र अवध के बायन पर मंगलवार को कड़ी आपत्ति...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -