Fri. May 24th, 2024
    फिलीपीन्स आसियान चतुष्कोणीय बैठक

    फिलीपीन्स के मनीला में शुरू हुए आसियान शिखर सम्मेलन का उद्घाटन रामायण मंचन व अन्य रंगारंग प्रस्तुतियों के साथ किया गया। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तीन दिवसीय यात्रा के दौरान फिलीपीन्स पहुंच चुके है। यहां पर रविवार को नरेन्द्र मोदी ने प्रमुख देशों के नेताओं से मुलाकात की।

    पीएम मोदी आसियान-भारत और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में बहुपक्षीय कार्यक्रमों में भाग लेंगे। पीएम मोदी आसियान सम्मेलन को संबोधित भी करेंगे। साथ ही आतंकवाद जैसी गंभीर समस्याओं से निपटने के लिए वैश्विक स्तर पर कदम उठाने की मांग करेंगे। पीएम नरेन्द्र मोदी फिलीपीन्स के लोस बानोस के अंतरराष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान पहुंचे और राइस फील्ड लैब का उद्घाटन किया।

    सोमवार को पीएम मोदी फिलीपीन्स के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतर्ते के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे। इस दौरान दोनों देशों के नेता भारत-फिलीपीन्स के बीच व्यापारिक रिश्तों को मजबूती प्रदान करेंगे।

    व्यापार व निवेश को लेकर होगी चर्चा

    आसियान शिखर सम्मेलन के दौरान मुख्य रूप से व्यापार व निवेश को लेकर सदस्य देशों के बीच में वार्ता की जाएगी। साथ ही व्यापारिक समस्याओं को दूर करने के लिए सदस्य देश अपनी प्रतिबद्धता जताएंगे।

    इसके अलावा संभावना है कि आज नरेन्द्र मोदी व अमेरिकी राष्ट्रपति अलग से द्विपक्षीय वार्ता भी कर सकते है। इससे पहले रविवार को भारत, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिकाजापान के बीच में अलग से चतुष्कोणीय बैठक हुई।

    इस बैठक में आपसी साझेदारी को बढ़ावा देने व भारत-प्रशांत क्षेत्र में व्यापार को मुक्त व समावेशी बनाने पर चर्चा की गई। चारों देशों ने कहा कि भारत-प्रशांत क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय कानून के अनुसार काम करने के लिए संकल्प लिया गया है।

    चीन को घेरने की पूरी तैयारी

    आसियान और पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन के दौरान दक्षिणी चीन सागर में चीन के बढ़ते प्रभाव को लेकर भी संबंधित कई देश अलग से द्विपक्षीय मुलाकात कर सकते है। इन देशों की कोशिश दक्षिणी चीन सागर मुद्दे पर चीन को घेरने की होगी।

    इसके अलावा डोनाल्ड ट्रम्प उत्तर कोरिया के परमाणु मिसाइल परीक्षणों का मुद्दा अन्य देशों के साथ उठा सकते है। आसियान की बैठक में भाग लेने के लिए सदस्य देशों के प्रमुख मनीला पहुंच चुके है।

    भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आसियान व पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन के साथ ही 14 नवंबर को क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी की बैठक में भी हिस्सा लेंगे। इस दौरान मोदी सदस्य देशों के साथ भारत के व्यापार व निवेश संबंधों को मजबूत बनाने पर काम करेंगे।

    क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी में 10 सदस्यीय आसियान के अलावा भारत, चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड शामिल है। संभावना है कि पीएम मोदी फिलीपीन्स में भारतीय समुदाय के साथ बातचीत भी करेंगे। मोदी की यह यात्रा काफी यादगार होगी क्योंकि इस समय आसियान के गठन के 50 साल भी पूरे होंगे। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में पीएम मोदी भाग लेंगे।