Tue. Dec 6th, 2022
    पीओके प्रधानमंत्री पाकिस्तान सरकार

    पाक-अधिकृत कश्मीर (पीओके) के प्रधानमंत्री राजा फारुक हैदर खान ने पाक सरकार द्वारा पीओके के लोगों के साथ भेदभावपूर्ण व सौतेला व्यवहार किए जाने पर पाकिस्तानी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

    हैदर खान ने कहा कि पीओके के लोगों के साथ पाक सरकार की तरफ से गलत रवैया अपनाया जा रहा है। एक सभा को संबोधित करते हुए पीएम हैदर खान ने कहा कि मीरपुर में नीलम-झेलम नदी के 55 किलोमीटर क्षेत्र में पानी की सुरंगों के निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को मंगला बांध से पानी नहीं मिल रहा है।

    पीओके पीएम ने पाकिस्तान सरकार पर निशाना साधते हुए कहा सवाल किया कि पाक कश्मीरियों को मंगला बांध का पानी क्यों नहीं दिया जा रहा है। मंगला बांध का लाभ पाक कश्मीरियों की जगह पाक नागरिकों को मिल रहा है।

    पीओके पीएम ने खुद को शक्तिविहीन बताया

    सभा को संबोधित करते हुए पीओके पीएम हैदर खान भावुक हो गए। हैदर खान ने खुद को शक्तिविहीन प्रधानमंत्री कहते हुए कहा कि पीओके का सारा नियंत्रण पाकिस्तान सरकार के हाथों में है। पीओके से संबंधित महत्वपूर्ण निर्णय भी पाक सरकार ही लेती है।

    हैदर खान ने पाकिस्तान सरकार से खुद की स्थिति स्पष्ट करने को कहा। साथ ही कहा कि वो वास्तव में पीओके के शक्तिशाली प्रधानमंत्री है या फिर उनकी भूमिका केवल पर्यवेक्षक की है। इसके अलावा हैदर ने कहा कि काला बाग बांध की इस्लामाबाद में कोई भी बात करने की हिम्मत नहीं करता है।

    मगंला बांध का पानी पीओके को नहीं मिल रहा

    इस दौरान सिंध के मुख्यमंत्री की तरफ से दिए गए एक पत्र का जिक्र करते हुए हैदर खान ने कहा कि सिंध के मुख्यमंत्री का कहना है कि मीरपुर के लोगों को मंगला बांध से पानी नहीं मिलेगा।

    आगे कहा कि मंगला बांध की वजह से पीओके के लोगों की आवश्यक जरूरतें पूरी होती है लेकिन फिर भी यहां के लोगों को पीने के पानी से वंचित किया जा रहा है।

    अंत में हैदर खान ने कहा कि पीओके के लोगों का भाग्य एक विवाहित पुत्र की तरह है जो एक तरफ तो परिवार का समर्थन करता है और दूसरी तरफ अपने पिता को दुर्व्यवहार के बारे में शिकायत कर रहा है।