गुरूवार, अक्टूबर 24, 2019

पाकिस्तान में सिख समुदाय को इस्लाम अपनाने को किया मजबूर, भारत ने जताया विरोध

Must Read

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है।...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते...

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्टों के अनुसार पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के हंगू जिले में कथित तौर पर सिख समुदाय के लोगों को जबरन इस्लाम धर्म स्वीकार करने के लिए मजबूर किया जा रहा है। इस रिपोर्ट के बाद भारत ने अपना विरोध पाकिस्तान के समक्ष दर्ज करवाया है। पाकिस्तान के अधिकारी ने सिख समुदाय को इस्लाम धर्म को अपनाने को मजबूर किया है।

मंगलवार को दिन में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्विटर पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से इस मामले में उचित कार्रवाई की जाने की मांग की थी।

सिख समुदाय के लोगों का इस्लाम धर्म में मजबूरन रूपांतरण के मामले पर अमरिंदर सिंह ने ट्विटर लिखा कि भारतीय विदेश मंत्रालय को उच्चतम स्तर पर इस मामले को देखना चाहिए और सिख समुदाय की मदद करनी चाहिए। अमरिंदर सिंह ने लिखा कि हम सिख समुदाय के ऊपर किसी प्रकार का शोषण नहीं होने देंगे।

इसके बाद भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी पाकिस्तान के हंगू जिले में सिख समुदाय के लोगों का जबरन इस्लाम में परिवर्तित करने को मजबूर करने पर चिंता जताई है। पाकिस्तान की इन रिपोर्टों पर चिंता व्यक्त करते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि वह जल्द से जल्द इस्लामाबाद के साथ इस मामले पर चर्चा करेगी।

सुषमा स्वराज ने ट्विटर पर लिखा कि वो इस मामले को पाकिस्तान सरकार के समक्ष उच्चतम स्तर पर लेकर जाएगी। इस ट्वीट में विदेश मंत्री ने पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग को भी टैग किया है।

दरअसल 16 दिसंबर को पाकिस्तान के पब्लिकेशन ट्रिब्यून ने बताया था कि एक सरकारी अधिकारी खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के हंगू जिले में इस्लाम धर्म को अपनाने के लिए कथित तौर पर सिख समुदाय के सदस्यों को मजबूर कर रहा था।

बाद में सिख समुदाय के लोगों ने हंगू जिले के डिप्टी कमिश्नर को इस संबंध में शिकायत दर्ज करवाई। सिख समुदाय ने पाकिस्तानी अधिकारी सहायक आयुक्त तहसील याकूब खान के ऊपर कथित तौर पर जबरन इस्लाम धर्म को अपनाने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है। यहां जिला पंचायत सीटों के...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते हुए बुधवार को सभी कंपनियों...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -