Wed. Apr 24th, 2024
    अमेरिकी राजदूत निक्की हेली

    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बाद संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत निक्की हेली ने भी पाकिस्तान पर जमकर वार किए है। नए साल के मौके पर पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आतंकवाद का साथ देने को लेकर अमेरिका ने कठघरे में खड़ा कर दिया है। पाकिस्तान जहां पर खुद को सही ठहरा रहा है, वहीं अमेरिका द्वारा लगातार पाकिस्तान को बेनकाब किया जा रहा है।

    अमेरिकी राजदूत निक्की हेली ने ट्रम्प प्रशासन के फैसले का स्वागत करते हुए पाकिस्तान के ऊपर अमेरिका के साथ डबल गेम खेलने का आरोप लगाया है। हेली ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पाकिस्तान को दी जाने वाली 255 मिलियन डॉलर की वित्तीय सहायता पर रोक लगाने के स्पष्ट कारण है।

    पाकिस्तान कई सालों से अमेरिका के साथ डबल गेम खेल रहा है। पाकिस्तान एक समय पर हमारे साथ काम करता है वहीं उसी समय पर दूसरी तरफ अफगानिस्तान में हमारे सैनिकों पर हमला करवाने के लिए आतंकवादियों को सुरक्षित स्थान उपलब्ध करवाता है। यह सब ट्रम्प प्रशासन के लिए अस्वीकार्य है।

    निक्की हेली ने आगे कहा कि ट्रम्प प्रशासन को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान से अधिक सहयोग की उम्मीद है। हेली ने स्पष्ट तौर पर कहा कि सहायता राशि रोकने का संबंध पूरी तरह पाकिस्तान द्वारा आतंकवादियों को पनाह देने से है।

    नए साल पर ट्रम्प ने पाकिस्तान को किया था बेनकाब

    गौरतलब है कि इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान को आडे हाथों लिया था। ट्रम्प ने ट्वीट करते हुए कहा था कि अमेरिका ने पिछले 15 सालों से हमें केवल धोखा दिया है।

    इस दौरान हमने पाकिस्तान को करीब 33 अरब डॉलर की सहायता राशि दी है। ट्रम्प के इस बयान से पाकिस्तान समेत पूरी दुनिया में खलबली मच गई थी।

    पाकिस्तान ने अपने बचाव में कहा कि अमेरिका के दावे पूरी तरह से झूठे है। वहीं पाकिस्तान के सदाबहार दोस्त चीन ने भी पाकिस्तान का समर्थन देने की घोषणा की है।