Sat. Nov 26th, 2022
    पाकिस्तान के पू्र्व प्रधानमंत्री

    पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ मंगलवार को भ्रष्टाचार रोधी अदालत में पेश हुए। पनामा दस्तावेज प्रकरण में भ्रष्टाचार के आरोपों के मुकदमों का सामना कर रहे नवाज शरीफ इस्लामाबाद की अदालत में पेश हुए। नवाज के साथ उनकी बेटी मरियम व दामाद कैप्टन मोहम्मद सफदर भी अदालत में पेश हुए।

    पनामा पेपर्स भ्रष्टाचार मामले को लेकर नवाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद से अयोग्य करार दिया था जिसके बाद शरीफ ने पीएम पद से इस्तीफा दे दिया था। अक्टूबर की शुरूआत में नवाज कोर्ट में पेश नहीं हुए थे जिसके बाद इनके खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी हुआ था।

    भ्रष्टाचार मामले को लेकर नवाज ने दिया था पीएम पद से इस्तीफा

    शरीफ और उनके परिवार के कुछ सदस्य लंदन में संपतियों के स्वामित्व से संबंधित आरोपों का सामना कर रहे है। अघोषित आय को लेकर पाक के सुप्रीम कोर्ट ने जुलाई में नवाज शरीफ को पीएम पद के अयोग्य करार दिया था। राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने आठ सितंबर को अदालत में शरीफ, उनके बच्चों और दामाद के खिलाफ तीन मामले दर्ज किए थे।

    पाक देश के सर्वाधिक ताकतवर राजनीतिक परिवार व सत्‍तारूढ़ पीएमएल-एन पार्टी का नेतृत्‍व करने वाले शरीफ का राजनीतिक भविष्‍य तब से अधर में लटका हुआ है। अगर शरीफ को दोषी करार दे दिया जाता है तो उन्हें जेल भी जाना पड़ सकता है।

    वहीं शरीफ के परिवार का कहना है कि उनके साथ राजनीतिक  साजिश की जा रही है। इसी साजिश के तहत उन्हें फंसाया जा रहा है। जवाबदेही अदालत, इस्लामाबाद हाई कोर्ट के फैसले पर विचार कर रही है जिसने पिछले सप्ताह निचली अदालत के न्यायाधीश मुहम्मद बशीर को शरीफ की एक याचिका पर फिर से सुनवाई करने के आदेश दिए थे।

    शरीफ ने याचिका में कहा कि उनके खिलाफ सभी तीन मामलों में एक साथ सुनवाई की जाए। निचली अदालत ने 19 अक्तूबर को शरीफ की याचिका खारिज कर दिया था। इस फैसले को इस्लामाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी गई जिसने इसे जवाबदेही अदालत के पास भेजते हुए इस पर फिर से सुनवाई का आदेश दिया।