Tue. Apr 16th, 2024
    रिलायंस जिओ

    भारत के सबसे अमीर आदमी और रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अम्बानी ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि आने वाले समय में भारत निवेश के लिए विश्व में सबसे अच्छा विकल्प है।

    मुकेश अम्बानी को हाल ही में व्यापारिक जगत में बेहतर काम करने के लिए पुरुष्कृत किया गया था। इस दौरान अम्बानी ने कहा कि उन्होंने अपनी कंपनी रिलायंस के जरिये भारत में 3.5 लाख करोड़ रूपए निवेश करने का जोखिम उठाया था, और इससे उन्हें काफी फायदा हुआ।

    जाहिर है मुकेश की कंपनी रिलायंस ने पिछले साल सितम्बर में जिओ की शुरुआत की थी। जिओ ने भारत के दूरसंचार जगत में एक क्रांति का काम किया था। पहली बार किसी कंपनी ने मुफ्त फोन कॉल और सस्ते दर में 4 जी डेटा उपलब्ध करवाया था। जिओ ने अब तक लगभग 12 करोड़ ग्राहक जुटा लिए हैं।

    इसके अलावा अम्बानी ने भारत की उभरती अर्थव्यवस्था पर कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था बहुत जल्द अभी के मुकाबले तीन गुना तक बढ़ सकती है। अभी भारत की अर्थव्यवस्था लगभग 2.5 ट्रिलियन डॉलर की है जो आने वाले समय में बढ़कर 7 ट्रिलियन डॉलर के पार पहुँच सकती है।

    अम्बानी ने आगे कहा कि पहले भारत के लोगों में विदेश में निवेश करने की होड़ लगी रहती थी। लेकिन अब भारतीय निवेश बाजार सबसे तेजी से तरक्की कर रहे हैं। अम्बानी ने कहा कि आने वाले कुछ सालों तक भारत सबसे तेजी से विकास करने वाला देश बना रहेगा।

    इसके बाद अम्बानी ने अन्य दूरसंचार कंपनियों पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘भारत जैसे विशाल बाजार में कई कंपनियां एक साथ काम कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि छोटी-मोटी नोक-झोक के बावजुद भी हम दोस्त की तरह रह सकते हैं।’ इस दौरान भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील मित्तल, वोडाफोन के मुख्य अधिकारी सुनील सूद और आदित्य बिरला समूह के चेयरमैन कुमार मंगलम बिरला भी मौजूद थे।

    अम्बानी ने आगे कहा, ‘जिओ भारतवासियों के लिए एक अहम् सूचनाप्रसारक का काम कर रहा है। भारत के लोगों को दुनिया के साथ चलना होगा। पहले की तरह नहीं कि पहले वहां होता था और दस साल बाद भारत में होता था।’

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।