Wed. Oct 5th, 2022
    नागपुर-मुंबई दूरंतो एक्सप्रेस उतरी पटरी से

    मंगलवार सुबह महाराष्ट्र के टिटवाला में नागपुर-मुंबई दूरंतो एक्सप्रेस का इंजन और 9 डिब्बे पटरी से उतर गए।
    सेंट्रल रेलवे के बयान के अनुसार अभी तक कोई जनहानि नहीं हुई है। रेलवे की ओर से मौके पर बसें और डॉक्टर्स की टीम भेजी जा रही है।

    सेंट्रल रेलवे के बयान से पहले इंजन और 5 डिब्बों के पटरी से उतरने का अंदाजा लगाया जा रहा था। सेंट्रल रेलवे चीफ पीआरओ सुनील उदासी ने इंजन और 7 डिब्बों उतरने की रिपोर्ट दी थी। रेलवे स्पोकपर्सन अनिल सक्सेना ने इंजन और 9 डिब्बों के पटरी से उतरने की पुष्टि की।

    सेंट्रल रेलवे चीफ पीआरओ ने इस दुर्घटना का कारण भूस्खलन को बताया है, और ड्राइवर द्वारा यूज़ किये एमरजेंसी ब्रेक को बहुत बढ़िया कार्य बताया है।

    हाल ही के दिनों में रेल हादसों की संख्या में वृद्धि हुई है। जिसके चलते रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने प्रधानमंत्री के समक्ष इस्तीफे की पेशकश की थी। हालाँकि प्रधानमंत्री ने उन्हें इंतज़ार करने को कहा था।

    हाल में ही दो बड़े हादसे हुए है, जिनमे 23 अगस्त को उत्तरप्रदेश के ओरेया जिले में 10 डिब्बे पटरी से उतर गए थे। और 19 अगस्त को उत्कल एक्सप्रेस मुज़्जफनगर में खतौली के पास दुर्घटनाग्रस्त हुई थी।

    23 अगस्त को हुए हादसे में करीब 74 लोग घायल हुए थे, और 19 अगस्त को हुए हादसे में 24 लोगों की मौत हुई थी और 150 लोग जख्मी हुए थे।