Tue. Jun 18th, 2024
    दिल्ली पुलिस

    पुरे दुनिया में नव वर्ष की धूम है। भारत में भी तमाम मॉलों, रेस्टोरेंटों, डांस बारों और दुकानों में नए साल की रौनक देखने को मिल रही है। सभी स्थानों को जश्न के लिए तैयार कर लिया गया है। नए साल पर बाजार भी एक दम नया हो गया है।

    नव वर्ष सभी के लिए भले मजे और मस्ती का दिन है लेकिन पुलिस के लिए यह दिन जिम्मेदारियों से भरा है। रंग में किसी तरह का भंग न पड़े इसके लिए पुलिस किसी भी सेलिब्रेशन के मोके पर अपने कर्त्वयों से पीछे हटने को तैयार नहीं है। नव वर्ष पर भी पुलिस का दैनिक कार्य लोगों की सुरक्षा करना ही है।

    आम दिन के मुकाबले नए साल पर किसी अनहोनी की आशंका के चलते पुलिस को कुछ ज़्यादा सतर्क और मुस्तैद रहना पड़ता है। दिल्ली में नव वर्ष पर कोई अप्रिय घटना ना हो इसके लिए पुलिस-प्रशासन ने अपनी कमर कस ली है।

    आम लोगों की तरह पुलिस भी यह बात जानती है कि आम जनता सुरक्षा संदेशो को नहीं पढ़ती है और पढ़ती भी है तो गंभीरता से नहीं लेती है इसलिए जनता को नव वर्ष पर सुरक्षा का महत्व समझाने के लिए पुलिस ने कुछ नए कदम उठाये है।

    दिल्ली पुलिस ने किया सुरक्षा संदेशों में कलात्मकता का प्रयोग

    सुरक्षा संदेशों को जन जन तक पहुँचाने के लिए पुलिस ने कलात्मकता का बखूबी प्रयोग किया है। संदेशों में तुकबंदी का प्रयोग किया गया है साथ ही भाषा का इस्तेमाल भी प्रचलित, सरल और सुगम तरीकों से किया गया है।

    युवाओं को समझाने के लिए पुलिस ऐसे संदेशों को मात्र अखबारों में नहीं अपितु फेसबुक और ट्वीटर पर भी अपलोड कर रही है। अपने ट्वीट में सुरक्षा का महत्व बताते हुए पुलिस ने लिखा है कि ” रोड सेफ्टी जरूरी है इसलिए थोड़ी सी वाइन भी नहीं है फाइन” कुछ इसी तरह का एक और ट्वीट है जिसमे लिखा गया है “अगर साथ है दारु चखना तो गाडी घर ही रखना।”

    दिल्ली वासियों को पुलिस हर अप्रिय दुर्घटना से बचाना चाहती है इसलिए पुलिस ने ट्वीट किया है कि “दारु पर हो भारी तो लो कैब की सवारी।”