Sat. Nov 26th, 2022
    अमेरिकी राष्ट्रपति

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एशियाई दौरे के दौरान अब दक्षिण कोरिया में पहुंच चुके है। इससे पहले वे जापान में थे जहां पर ट्रंप ने शिंजो आबे के साथ मुलाकात की थी। ट्रंप कुल 5 देशों की यात्रा पर रहेंगे।

    दक्षिण कोरिया में पहुंचने के बाद ही ट्रंप हेलीकॉप्टर से सियोल के निकट एक सैन्य शिविर में पहुंचे है। यहां पर ट्रंप ने कोरियाई प्रायद्वीप के साथ ही अमेरिकी सैन्य बलों की समीक्षा भी की। दो दिवसीय यात्रा पर दक्षिण कोरिया आए ट्रंप ने अमेरिकी व दक्षिण कोरियाई सैनिकों के साथ में भोजन किया।

    ट्रंप का मुख्य उद्देश्य उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार परीक्षण कार्यक्रम को छोड़ने पर दबाव बनाने का है। इसके लिए ट्रंप दक्षिण कोरिया के साथ उत्तर कोरिया विवाद को लेकर बातचीत करेंगे। दक्षिण कोरिया पहुंचने के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने सियोल से करीब 40 मील दूर सैन्य शिविर की तरफ कूच किया।

    ट्रंप ने सैन्य बलों के साथ किया भोजन

    यहां पर डोनाल्ड ट्रंप ने सैनिकों के साथ दोपहर का भोजन किया। ट्रंप के साथ दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपित मून-जेए-इन भी मेज पर बैठे हुए थे। यहां पर संवाददाताओं से बातचीत के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने खाने की तारीफ करते हुए इसे शानदार बताया।

    वहीं अगर व्यक्तिगत स्तर पर देखा जाए तो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप व दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून-जेए-इन के बीच में रिश्ते मजबूत नहीं है। जापान व चीन के मुकाबले दक्षिण कोरिया के साथ ट्रंप के रिश्ते ज्यादा अच्छे नहीं है।

    इसलिए दक्षिण कोरिया यात्रा के दौरान ट्रंप की मंशा रहेगी कि वो अपने निजी संबंधों को मजबूती प्रदान करे। इससे पहले ट्रंप ने जापान से उत्तर कोरिया को चेतावनी जारी करते हुए कहा था कि अब सब्र का बांध टूट रहा है।

    साथ ही ट्रंप के बयान पर जापानी पीएम शिंजो आबे ने भी अपनी सहमति जताई थी। इस समय अमेरिका को उत्तर कोरिया से परमाणु हमले की धमकी मिल रही है जिसके मद्देनजर ट्रंप का एशियाई दौरा काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।