दा इंडियन वायर » दूरसंचार » जिओ डेटा लीक के चलते राजस्थान से 6 को हिरासत में लिया
दूरसंचार समाचार

जिओ डेटा लीक के चलते राजस्थान से 6 को हिरासत में लिया

रिलायंस जिओ 509, 799 रूपए प्लान
देश की सबसे प्रचलित टेलीकॉम कंपनी रेलाइन्स जिओ पिछले कुछ दिनों से सवालों के घेरे में है। हाल ही में कंपनी के डेटाबेस से जानकारी चुराने का मामला सामने आया था। इसी के चलते पुलिस ने राजस्थान के चूरू जिले से 6 लोगों को पूछ्तात के लिए हिरासत में लिया है।

देश की सबसे प्रचलित टेलीकॉम कंपनी रेलाइन्स जिओ पिछले कुछ दिनों से सवालों के घेरे में है। हाल ही में कंपनी के डेटाबेस से जानकारी चुराने का मामला सामने आया था। इसी के चलते पुलिस ने राजस्थान के चूरू जिले से 6 लोगों को पूछ्तात के लिए हिरासत में लिया है।

आपको बता दें कि दो दिन पहले खबर आयी थी कि एक थर्ड पार्टी जिओ कस्टमर्स की पर्सनल जानकारी लीक कर रही थी। एक वेबसाइट पर कोई भी जिओ नंबर डालने से उससे जुड़े व्यक्ति की सारी जानकारी लीक हो रही थी। हांलाकि बहुत जल्द इस वेबसाइट को ससपेंड कर दिया गया था, लेकिन जिओ कंपनी पर सवाल उठ रहे हैं। घटना के तुरंत बाद एक एफ.आई.आर. मुंबई में दर्ज की गयी और जांच में मिले आई.पी. एड्रेस की सहायता से पुलिस ने राजस्थान से कुछ लोगों को हिरासत में लिया है।

जिओ

गिरफ्तार किये हुए लोगों में एक का नाम है, इमरान चिपा। इमरान को लीक करने वाली वेबसाइट ( मैजिक अपक ) से जुड़ा हुआ बता रहें है। दर्ज किये गए आई.पी. एड्रेस के मिलने से पुलिस इमरान को गिरफ्तार करने में सफल हो पायी। इसके अलावा जिओ भी इस मामले में जांच पड़ताल कर रही है। खबर है कि कंपनी सिक्योरिटी एजेंसियों के साथ मिलकर इस मामले को जांच रही है। कुछ सूत्र इसे देश की टेलीकॉम में सबसे बड़ा लीक बता रहे हैं। आपको बता दें जिओ के साथ 11 करोड़ से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं। ऐसे में यह कंपनी की सुरक्षा को लेकर एक बहुत बड़ी समस्या है।

About the author

पंकज सिंह चौहान

पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Want to work with us? Looking to share some feedback or suggestion? Have a business opportunity to discuss?

You can reach out to us at [email protected]