दा इंडियन वायर » टैकनोलजी » चीनी कंपनी टेंसेंट ने फेसबुक को पछाड़ा, बनी पांचवी सबसे बड़ी कंपनी
टैकनोलजी समाचार

चीनी कंपनी टेंसेंट ने फेसबुक को पछाड़ा, बनी पांचवी सबसे बड़ी कंपनी

टेंसेंट फेसबुक को पछाड़ा

चीनी इन्टरनेट कंपनी टेंसेंट ने मार्किट वैल्यू के हिसाब से सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक को पीछे छोड़ दिया है। इसी के साथ टेंसेंट अब विश्व की पांचवी सबसे बड़ी कंपनी बन गयी है। टेंसेंट से बड़ी कंपनियां अल्फाबेट (गूगल), एप्पल, माइक्रोसॉफ्ट और अमेज़न हैं।

जाहिर है कल ही टेंसेंट की कुल मार्किट वैल्यू 500 बिलियन डॉलर (30 लाख करोड़ रूपए) के पार पहुंची थी। इसके बाद आज टेंसेंट ने फेसबुक को पछाड़ दिया है।

इस खबर के बाद टेंसेंट के शेयर बड़े स्तर में उछाले। होन्ग कोंग के शेयर बाजार में टेंसेंट कंपनी की कुल वैल्यू 4.17 ट्रिलियन होन्ग कोंग डॉलर (535.5 अमेरिकी डॉलर) पहुँच गयी है। इस समय टेंसेंट एशिया की सबसे बड़ी कंपनी है।

इससे पहले सोमवार को टेंसेंट के मार्किट वैल्यू के हिसाब से अलीबाबा को पछाड़ दिया था। अब टेंसेंट के लिए अगली चुनौती अमेज़न होगी। अमेज़न की कुल वैल्यू 542 बिलियन डॉलर है, जो टेंसेंट से बहुत ज्यादा नहीं है।

टेंसेंट कंपनी के विकास दर का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पिछले सिर्फ 13 सालों में कंपनी का शेयर 11000 फीसदी बढ़ गया है। 2004 में कंपनी होन्ग-कोंग के शेयर बाजार पर सिर्फ 3.70 होन्ग-कोंग डॉलर में लिस्ट हुई थी।

टेंसेंट कंपनी चीन की सबसे महत्वपूर्ण कंपनियों में से एक है। कंपनी के पास चीन की सबसे बड़ी सोशल वेबसाइट वीचैट है, जिसके 1 अरब से ज्यादा ग्राहक हैं। इसके अलावा टेंसेंट गेम, कृत्रिम बुद्धिमता, विज्ञान आदि कई क्षेत्रों से जुडी है।

टेंसेंट के इस विकास की बदौलत कंपनी के संस्थापक की कुल संपत्ति में भी काफी बढौतरी हुई है। हालिया ख़बरों की मानें तो इनकी कुल संपत्ति गूगल के संस्थापक से भी ज्यादा हो गयी है।

इसके संस्थापक मा हुआटेंग की कुल संपत्ति 48.3 बिलियन डॉलर पहुँच गयी है। इसी के साथ वे विश्व के 9 वें सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं।

अब कंपनी के संस्थापक कंपनी को अन्य देशों तक भी पहुँचाना चाहते हैं। इसके लिए कंपनी ने मलेशिया को सबसे पहले चुना है। मलेशिया के बाद सिंगापुर आदि देशों में भी टेंसेंट काम बढ़ा सकती है।

About the author

पंकज सिंह चौहान

पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!