Fri. Jun 14th, 2024
    भाजपा का डोर टू डोर जनसंपर्क अभियान

    गुजरात विधानसभा चुनाव बीजेपी के लिए मान और सम्मान का विषय बन गई है। यही कारण है कि बीजेपी इस चुनाव को जीतने के लिए युद्ध स्तर पर जाकर प्रचार-प्रसार कर रही है। छोटे-छोटे कार्यकर्ता से लेकर बड़े बड़े मंत्री तक इस चुनाव में पार्टी को जिताने के लिए अपना अपना योगदान दे रहें हैं।

    इसी क्रम में बीजेपी के डोर टू डोर जनसंपर्क को सफल बनाने के लिए चार केंद्रीय मंत्रियों ने इस अभियान में हिस्सा लिया। गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी को जीत दिलाने के लिए अहमदाबाद में मंत्री रामविलास पासवान, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, राजकोट में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और नवसारी में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने डोर टू डोर जनसंपर्क किया और भाजपा सरकार की उपलब्धियों से लोगों को परिचित करवाया।

    गुजरात में दलितों तथा पाटीदारों को अपने पक्ष में करने के मकसद से पासवान ने अपने भाषण में मोदी सरकार को इनका शुभ चिंतक बताया। पासवान ने कहा कि मोदी जी का कोई भी काम दलितों या पाटीदारों के खिलाफ नहीं होता है तथा उनके हर फैसले से दलितों का लाभ हुआ है। इस दौरान उन्होंने राम जन्मभूमि, धारा 370 जैसे विवादित मुद्दों को नहीं उठाया।

    रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि गुजरात का विरोध कांग्रेस पार्टी के डीएनए में रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूर्व विधानसभा क्षेत्र मणिनगर में डोर टू डोर जनसंपर्क में भाग लेने के बाद पत्रकारों से बातचीत में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि कांग्रेस ने गुजरात के लिए बेहद जरूरी नर्मदा जलापूर्ति परियोजना में लगातार रोड़े अटकाए तथा गुजरात के सरदार पटेल को भारत रत्न नहीं दिया। उन्होंने कांग्रेस पर नर्मदा मुद्दे पर राजनीति करने का आरोप लगाया।

    सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने भी शनिवार को नवसारी में गुजरात गौरव महासंपर्क अभियान के दौरान बीजेपी के समर्थन में प्रचार-प्रसार किया। उन्होने जनता से अच्छे गुजरात की खातिर बीजेपी को अपना मत देने का आग्रह किया।