Sat. Jan 28th, 2023

    केंद्रीय सामाजिक अधिकारिता राज्यमंत्री और आरपीआई रामदास आठवले ने मनसे प्रमुख राज ठाकरे पर व्यंग्य करते हुए कहा है कि उन्हें यदि गुंडागर्दी करनी है तो भारत-पाक बॉर्डर पर चले जाए। यहां मुंबई के फेरीवालों के सामने गुंडई करने से कोई लाभ नहीं है। आरपीआई इसका मुँह-तोड़ जवाब देगी।

    रिपब्लिक पार्टी ऑफ़ इंडिया के संस्थापक पार्टी की और से आयोजित एक सभा में भाषण दे रहे थे। उन्होंने कहा कि इस देश में जब तक बाबा भीमराव अम्बेडकर का कानून लागु रहेगा तब तक देश के किसी भी कोने में जाकर कही भी जा कर रोजगार और निवास के लिए लोग जा सकते है। मुंबई में यूपी और बिहार के लोगो को रहने का अधिकार है।

    आठवले ने आगे कहा कि मुंबई में यूपी के फेरी वालो को लेकर जो गुंडई की जा रही है आरपीआई इसका मुँह तोड़ जवाब देगी। राज ठाकरे को अगर गुंडई करनी है तो वह बॉर्डर पर जाकर करे, वहां उन्हें वास्तविकता का ज्ञान हो जायेगा।

    उन्होंने इस मौके पर बीएसपी पर भी प्रहार किया उन्होंने परोक्ष रूप से कहा कि यूपी को सँवारने आये है ना की लूटने आये है। उन्होंने कहा कि हाथी अब भूखा है वह अब मोदी और आरपीआई की और देख रहा है। उसे और अधिक दिनों तक इंतज़ार करने की जरुरत नहीं है। मोदी और आरपीआई की तरफ आ जाए भरपूर भोजन मिलेगा।

    रामदास आठवले ने कहा कि बाबा साहब ने कभी भी ब्राह्मणो का कभी विरोध नहीं किया, उन्होंने जातिवाद का विरोध किया। उन्होंने आगे कहा कि हम उन्ही सिधान्तो पर चलते हुए देश और समाज के विकास में जुटे हुए है। उन्होंने आगे अपनी पार्टी के बारे में बताते हुए कहा कि आरपीआई किसी एक जाति और धर्म की पार्टी नहीं है, बल्कि सभी लोग इसमें आ सकते है।

    इस आयोजन पर रामदास आठवले के साथ-साथ उत्तराखंड के प्रभारी श्याम धर दुबे, यूपी के प्रभारी संदीप दुबे, आरपीआई के प्रदेश अध्यक्ष अजय गौतम, भदोही के जिलाध्यक्ष प्रदीप कोरी आदि मौजूद थे।