Thu. Jul 25th, 2024
    तेजस्वी यादव

    केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के खिलाफ जमीन कब्जाने की एफआईआर दर्ज होने के बाद राजनीतिक रणनीतियां तेज हो गई है। विपक्षी पार्टियां इस मुद्दे को लेकर मोदी सरकार को घेरने की तैयारी कर रही है। भूमि पर कब्जे के एक मामले में गिरिराज सिंह के खिलाफ पटना के दानापुर थाना में मामला दर्ज किया गया है।

    गिरिराज सिंह के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद राजद नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री, नरेन्द्र मोदी व सुशील मोदी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। तेजस्वी ने नीतीश कुमार को भाजपा के साथ राज्य में राजनीतिक गठबंधन तोड़ने के लिए चुनौती दी है।

    तेजस्वी ने ट्वीट करते हुए नीतीश को कहा कि क्या आप अब इस्तीफा देंगे? क्या आप अब भाजपा के साथ गठबंधन से बाहर जाएंगे? अब आपकी नैतिकता कहां गायब हो गई है? क्या आपके पास कोई जवाब है? यहीं नहीं तेजस्वी ने कहा कि मुख्यमंत्री के रूप मे आपकी अंतरआत्मा आपको इस्तीफे की इजाजत नहीं दे रही है क्या।

    नीतीश कुमार के अलावा सुशील मोदी के खिलाफ भी तेजस्वी ने प्रहार किया है। तेजस्वी ने कहा कि देश के सबसे बडे खुलासा मियां सुशील मोदी के मुंह में दही जम गया है। इनके परम सहयोगी गिरिराज सिंह बंगला हडपते जा रहे है। सुशील मोदी बिल में छिप कर कहां बैठ गए है।

    बिहार विधानसभा के विपक्षी नेता ने ट्वीट करके कहा कि  गिरिराज सिंह के घर से करोड़ों नकद बरामद किए गए है, लेकिन उन्हें अभी भी ईमानदार माना जाता है क्योंकि इस विकास की कोई खबर नहीं है।

    इसके अलावा तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी को ट्वीट करके कहा है कि आपकी सरकार के मंत्री गरीबों को घर देने की बजाय उनकी जमीनों पर ही कब्जा कर रहे है। कहीं ये मंत्री अब गरीबों को पाकिस्तान भेजने की बात न कह दे।

    गौरतलब है कि साल 2014 में गिरिराज सिंह ने नरेंद्र मोदी के आलोचकों को पाकिस्तान जाने की कहकर विवाद पैदा किया था। तेजस्वी यादव लगातार मोदी व नीतीश सरकार पर हमला करने से चूक नहीं रहे है।